PM Shri School Yojana: KV और नवोदय स्कूल की तर्ज में बनेंगे 15000 मॉडल स्कूल,बच्चों को मिलेगी अच्छी शिक्षा

PM Shri School Yojana: KV और नवोदय स्कूल की तर्ज में बनेंगे 15000 मॉडल स्कूल,बच्चों को मिलेगी अच्छी शिक्षा

PM Shri School Yojana

DELHI:जिन माता-पिता के बच्चे आने वाले समय में स्कूल में एडमिशन लेंगे उनके लिए बड़ी खबर है।अब आईआईटी-भुवनेश्वर कैंपस में एक नए केंद्रीय विद्यालय (Kendriya Vidyalaya) का उद्घाटन करते हुए केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने 15000 मॉडल स्कूल की जानकारी दी।वहीं बात अगर IIT Bhubaneswar के केंद्रीय विद्यालय की करें तो यहां जल्द एडमिशन जल्द शुरू होंगे।

IIT Bhubaneswar के केंद्रीय विद्यालय की करें तो यहां इस सत्र से पढ़ाई शुरू हो जाएगी और छात्रों को बेहतर शिक्षा मिलेगी।

ये रहा स्कूल-IIT Bhubaneswar

बता दें मोदी सरकार देश भर में 15000 मॉडल स्कूल खोलने की तैयारी कर रही है।जिसका नाम पीएम श्री स्कूल योजना (PM Shri School Yojana)है।मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) के नेतृत्व में सरकार ने देश के हर एक ब्लॉक में मॉडल स्कूल खोलने का फैसला किया है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Dharmendra Pradhan) ने बताया कि यह फैसला एजुकेशन क्वालिटी बढ़ाने और  क्षेत्रीय आकांक्षाओं को पूरा करने में स्कूल महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

सभी के लिए शिक्षा का उद्देश्य, ऐसे बनेंगे मॉडल स्कूल
सभी के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने और कोई भी शिक्षा से वंचित न हो, इस उद्देश्य से केंद्र ने देश के हर एक ब्लॉक में मॉडल स्कूल खोलने का फैसला लिया है। शिक्षा मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया कि किसी भी राज्य के सरकारी स्कूल, केंद्रीय विद्यालय, एकलव्य विद्यालय या नवोदय विद्यालय को मॉडल स्कूल में बदला जा सकता है।

राज्यों से मांगे गए हैं सुझाव

बता दें कि अभी इन स्कूलों की पूरी जानकारी आना बाकी है और अभी सरकार की ओर से ये पहल है, जिसे लेकर पूरी भूमिका जल्द ही बनाई जाएगी। पीएम श्री स्कूलों को शिक्षा के लिए किस तरह से खास बनाया जा सकता है, इसके लिए केंद्र सरकार ने सभी राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों और शैक्षणिक तंत्र की ओर से सुझाव देने के लिए कहा गया है। इन सुझावों को ध्यान में रखते हुए प्रोजेक्ट या प्लान में बदलाव किए जाएंगे और उसी तरह से स्कूलों का निर्माण किया जाएगा।

इन स्कूलों में क्या होगा खास?

केंद्रीय मंत्री की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, इन स्कूलों में कई आधुनिक सुविधाएं होंगी । इन स्कूलों की खास बात ये होगी कि इसमें सभी भाषाओं पर अच्छी शिक्षा का जोर दिया जाएगा। सरकार का मानना है कोई भी भाषा हिन्दी या अंग्रेजी से कमतर नहीं है। इन स्कूलों को मॉडल स्कूल की ओर तैयार किया जाएगा और स्कूलों का नाम पीएम श्री स्कूल होगा। इन स्कूलों में सिर्फ किताबी शिक्षा ही नहीं दी जाएगी, बल्कि इसके साथ ही स्किल एजुकेशन पर भी खास ध्यान दिया जाएगा। शिक्षा को ग्लोबल बनाने के लिए हमारे ई-कंटेंट विकसित करने की कोशिश की जाएगी।

क्या है 5+3+3+4 वाला फॉरमेट?

बता दें कि नई शिक्षा नीति में 10+2 के फार्मेट को पूरी तरह खत्म कर दिया गया था। अब इसे 10+2 से बांटकर 5+3+3+4 फार्मेट में ढाला गया है। इसका मतलब है कि अब स्कूल के पहले पांच साल में प्री-प्राइमरी स्कूल के तीन साल और कक्षा 1 और कक्षा 2 सहित फाउंडेशन स्टेज शामिल होंगे। फिर अगले तीन साल को कक्षा 3 से 5 की तैयारी के चरण में विभाजित किया जाएगा। इसके बाद में 3 साल मध्य चरण (कक्षा 6 से 8) और माध्यमिक अवस्था के चार साल (कक्षा 9 से 12)।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password