'जन आंदोलन' PM मोदी ने कोरोना के खिलाफ शुरू की एक और लड़ाई -

‘जन आंदोलन’ PM मोदी ने कोरोना के खिलाफ शुरू की एक और लड़ाई

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आने वाले दिनों में मौसम परिवर्तवन यानी सर्दी के मौसम और त्यौहारी सीजन के साथ ही अर्थव्यवस्था की स्थिति को देखते हुए गुरूवार को कोविड-19 ( Covid 19 ) से निपटने के लिए एक ‘जन आंदोलन’ की शुरुआत की है। प्रधानमंत्री ने कोरोना से बचाल के लिए समुचित व्यवहार के बारे में ट्विटर पर जन आंदोलन के तहत सिलसिलेवार ट्वीट कर लोगों से आग्रह किया कि जब तक कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए कोई टीका नहीं बन जाता तब तक उन्हें हर सावधानी बरतनी होगी और थोड़ी भी ढ़िलाई नहीं करनी है।

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘कोरोना वायरस से बचें. हाथ धोएं बार-बार. सही से मास्क पहनें. निभाएं दो गज की दूरी। जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं।’ मोदी ने कोरोना वायरस से बचाव संबंधी संदेशों के साथ तस्वीरें भी शेयर की हैं, जिसमें वे गमछा लपेटे हुए हाथ जोड़कर लोगों से आग्रह करते दिखाई दे रहे हैं। इस अभियान को बढ़ावा देने के लिए उन्होंने हैशटैग ‘यूनाइट टू फाइट कोरोना’ का उपयोग किया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हम सब मिलकर कोरोना वायरस के खिलाफ सफलता हासिल करेंगे और इस लड़ाई को जीतेंगे. उन्होंने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई लोगों द्वारा लड़ी जा रही है जिसे कोरोना योद्धाओं से मजबूती मिली है. उन्होंने कहा, ‘हमारे सामूहिक प्रयासों ने कई जिंदगियां बचाने में मदद की है. हमें इस गति को बरकरार रखना है और इस वायरस से नागरिकों की रक्षा करनी है.’

गौरतलब है कि सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने बुधवार को घोषणा की थी कि प्रधानमंत्री मोदी कोविड-19 से बचाव के लिए समुचित व्‍यवहार के बारे में गुरुवार को ट्विटर पर ‘जन आंदोलन’ अभियान की शुरूआत करेंगे। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि इसी सिद्धांत का पालन करते हुए सार्वजनिक स्थानों पर इन उपायों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के अभियान को शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘कोरोना काल में डरने की नहीं, सावधानी की आवश्यकता है। यह संदेश जन जन तक पहुंचाने के लिए जनचेतना की मुहिम चलाई जाएगी। दवा और वैक्सीन के बिना मास्क, दो गज की सुरक्षित दूरी, हाथ धोना ही सुरक्षा कवच हैं।’

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password