PM Modi: मप्र की तारीफ करते हुए बोले पीएम मोदी, कहा- “एमपी गजब तो है, देश का गौरव भी है”

भोपाल। मध्य प्रदेश पर्यटन निगम के विज्ञापन की टैग लाइन “एमपी अजब है, सबसे गजब है” को याद करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कहा कि एमपी (मध्य प्रदेश) गजब तो है, देश का गौरव भी है। प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी कहा कि मध्य प्रदेश में गति भी है, विकास की ललक भी। राज्य के हरदा जिले में स्वामित्व योजना से जुड़े कार्यक्रम के ऑनलाइन संबोधन में कहा कि अब हम टीवी पर तो देखते ही हैं कि एमपी है, तो गजब है और एमपी गजब तो ही, एमपी देश का गौरव भी है। एमपी में गति भी है और एमपी में विकास की ललक भी। केंद्र की कल्याण योजनाओं को लागू करने में गति और उत्साह के लिए भाजपा शासित मध्य प्रदेश की प्रशंसा करते हुए मोदी ने कहा, कि लोगों के हित में कोई योजना बनते ही, मध्य प्रदेश में उस योजना को जमीन पर उतारने के लिए दिन-रात एक कर दिया जाता है। ये जब-जब मैं सुनता हूं, जब-जब मैं देखता हूं, मुझे बहुत आनंद आता है, बहुत अच्छा लगता है और मेरे साथी इतना बढ़िया काम करते हैं, यह अपने आप में मेरे लिए संतोष का विषय होता है।

मोदी ने देश के ग्रामीण क्षेत्रों में संपत्ति का स्पष्ट तौर पर स्वामित्व देने वाली स्वामित्व योजना का जिक्र करते हुए कहा कि इस योजना को लागू करने में मध्य प्रदेश ने इसमें भी अपने चिर-परिचित अंदाज में तेज गति से काम किया है और मध्य प्रदेश इसके लिए बधाई का पात्र है। आज प्रदेश के तीन हजार गांवों के एक लाख 70 हजार से अधिक परिवारों को मिला संपत्ति का अधिकार कार्ड उनकी समृद्धि का साधन बनेगा। यह लोग डिजी लाकर्स की मदद से अपना संपत्ति कार्ड मोबाइल पर डाउनलोड भी कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि जिस गति से मध्य प्रदेश आगे बढ़ रहा है। मेरा विश्वास है कि जल्द ही राज्य के सभी ग्रामीण परिवारों का अधिकार अभिलेख अवश्य मिल जाएगें। उन्होंने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्रदेश में भूमि रिकार्ड के डिजिटलीकरण के लिए प्रशंसा की। प्रधानमंत्री ने कहा कि सभी क्षेत्रों में मध्य प्रदेश देश में एक अग्रणी राज्य है।

परियोजना को बताया सफल
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के ग्रामीण क्षेत्रों में संपत्ति का स्पष्ट तौर पर स्वामित्व देने वाली ‘‘स्वामित्व योजना’’ का जिक्र करते हुए कहा कि इस योजना ने ग्रामीण अर्थव्यवस्था की ताकत को बढ़ाया है और अब इसे राष्ट्रीय स्तर पर लागू किया जाएगा। मध्य प्रदेश के हरदा जिले में बुधवार को समारोह को ऑनलाइन संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश के कुछ राज्यों में प्रायोगिक परियोजना के सफल रहने के बाद देश के ग्रामीण विकास को सुनिश्चित करने के लिए अब स्वामित्व योजना को राष्ट्रीय स्तर पर लागू किया जाएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि यह योजना देश में ग्राम स्वराज के लिए एक उदाहरण बनेगी तथा गांव के लोगों के विकास और प्रगति को सुनिश्चित करेगी। सामाजिक-आर्थिक रुप से सशक्त और आत्मनिर्भर ग्रामीण भारत को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री ने 24 अप्रैल 2020 को स्वामित्व योजना शुरू की थी। इस योजना का उद्देश्य ड्रोन तकनीक का उपयोग करके मानचित्रों की मैंपिंग करके ग्रामीण इलाकों में संपत्ति के स्पष्ट स्वामित्व की स्थापना करना और पात्र परिवारों को कानूनी स्वामित्व कार्ड जारी करके उन्हें अधिकार प्रदान करना है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password