PM Modi In Bhopal: पीएम मोदी पहुंचे भोपाल, केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह समेत 20 नेता करेंगे स्वागत

भोपाल। पीएम नरेंद्र मोदी भोपाल पहुंच चुके हैं। एयरपोर्ट पर केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह समेत 20 नेताओं द्वारा उनका स्वागत किया जाएगा। वहीं पीएम मोदी जनजातीय गौरव दिवस पर आयोजित सम्मेलन को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री शिवराज सरकार की आदिवासियों से जुड़ी योजनाओं का शुभारंभ भी करेंगे और हाल ही में बनकर तैयार हुए वर्ल्ड क्लास रानी कमलापति रेलवे स्टेशन उद्घाटन भी करेंगे।

इस तरह रहेगा कार्यक्रम
प्रधानमंत्री दोपहर 12:35 बजे भोपाल पहुंच चुके हैं। वहीं 4 बजकर 20 मिनट पर भोपाल एयरपोर्ट से दिल्ली रवाना हो जाएंगे। पीएम मोदी पहली बार इतना लंबा वक्त भोपाल में गुजारेंगे। अमर शहीद बिरसा मुंडा की जन्म जंयती पर जंबूरी मैदान में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेशभर के 37 जिलों के करीब 2 लाख आदिवासियों के शामिल हो रहे हैं। मंच पर प्रधानमंत्री के अलावा राज्यपाल मंगूभाई पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, ज्योतिरादित्य सिंधिया और नरेंद्र सिंह तोमर सहित 8 केंद्रीय मंत्री, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और प्रदेश के आदिवासी नेता रहेंगे।

14 बड़ी योजनाएं आदिवासियों को करेंगे समर्पित
15 नवंबर को जनजातीय सम्मेलन के मंच से PM 14 बड़ी योजनाएं आदिवासियों को समर्पित करेंगे। ‘राशन और पानी आपको द्वार’ समेत सीएम शिवराज की 14 योजनाओं से प्रदेश के 89 जनजातीय बाहुल्य विकासखंडों को लाभ मिलेगा, इनमें घर-घर पेयजल पहुंचाने के लिए नल-जल योजना भी शामिल है।

‘राशन आपके द्वार’ योजना
प्रदेश की डेढ़ करोड़ आबादी को शिक्षा से लेकर रोजगार, स्वरोजगार, स्वास्थ्य, पेयजल, आवास का लाभ दिलाने के लिए प्रदेश सरकार ने योजनाएं बनाई हैं। इनमें प्रमुख रूप से ‘राशन आपके द्वार’ योजना है, जिससे राशन के लिए आदिवासियों को लाईन में नहीं लगना पड़ेगा। योजना के जरिए राशन उनके घर पहुंचाया जाएगा वहीं सरकार ने इसे रोजगार से भी जोड़ा है। सरकार राशन पहुंचाने वाले जनजातीय युवाओं को हर महीने 26 हजार रुपए दिए जाएंगे।

आदिवासियों के लिए प्रमुख योजनाएं

राशन आपके द्वार योजना 89 आदिवासी ब्लॉक में शुरु होगी
सिकेल सेल एनीमिया बीमारी से निजात पाने के लिए मिशन शुरु होगा
छिंदवाड़ा विश्वविद्यालय का नाम राजा शंकर शाह होगा
मध्य प्रदेश औषधीय पादप बोर्ड का गठन होगा
देवारण्य औषधीय पादप बोर्ड का गठन होगा
सामुदायिक वन प्रबंधन का अधिकार आदिवासी समाज को दिया जाएगा
आदिवासी स्टूडेंट्स के लिए NEET, JEE मेंस की परीक्षाओं को लेकर स्मार्ट क्लासेस शुरु होंगी
हर गांव में 4 व्यक्तियों को ग्रामीण इंजीनियर के रूप में ट्रेनिंग दी जाएगी
आदिवासी युवाओं को पुलिस और सेना में भर्ती के लिए ट्रेनिंग
जल जीवन मिशन के तहत हर गांव में नल कनेक्शन

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password