Har Ghar Nal Yojna UP : पीएम मोदी ने 42 लाख ग्रामीणों को हर घर नल योजना की दी सौगात, सीएम भी रहे मौजूद

Har Ghar Nal Yojna UP

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर और सोनभद्र में 41 लाख से ज्‍यादा ग्रामीणों को योगी सरकार हर घर नल योजना Har Ghar Nal Yojna UP की सौगात मिली। रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली से इस योजना का वर्चुल शिलान्‍यास किया। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोनभद्र के चतरा ब्लॉक के करमांव गांव से इस कार्यक्रम में शामिल हुए। शिलान्यास कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री मिर्जापुर भी जाएंगे।

 

पेयजल योजनाओं का शिलान्यास किया
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जल जीवन मिशन उत्तर प्रदेश के अंतर्गत विंध्य क्षेत्र के जनपद मिर्ज़ापुर और सोनभद्र में 2,995 राजस्व ग्रामों की 42 लाख आबादी को लाभ पहुंचाने वाली 5,555 करोड़ की 23 ग्रामीण पाइप पेयजल योजनाओं का शिलान्यास किया।

 

संकल्प को भी ताकत मिलेगी
पीएम मोदी ने कहा कि जीवन की बड़ी समस्या जब हल होने लगती है तो अलग ही विश्वास झलकने लगता है। ये विश्वास, उत्साह आप में मैं देख पा रहा। पानी के प्रति आप में संवेदनशीलता कितनी है, ये भी दिख रहा है। सरकार आपकी समस्याओं को समझकर उनका समाधान कर रही है। आने वाले समय में जब यहां के 3 हज़ार गांवों तक पाइप से पानी पहुंचेगा तो 40 लाख से भी ज़्यादा साथियों का जीवन बदल जाएगा। इससे यूपी के, देश के हर घर तक जल पहुंचाने के संकल्प को भी ताकत मिलेगी।

कई सालों तक अभाव का क्षेत्र बना रहा
पीएम मोदी ने कहा कि विंध्याचल हो या बुंदेलखंड पूरा क्षेत्र संसाधनों के बाद भी कई सालों तक अभाव का क्षेत्र बना रहा। इतनी नदियां होने के बाद भी इसकी पहचान सबसे अधिक सूखा प्रभावित क्षेत्रों में रही। इस वजह से बहुत से लोग यहां से पलायन कर गए। इन समस्याओं को दूर करने के लिए हमने निरंतर काम किया। हर घर जल पहुंचाने के अभियान को अब डेढ़ साल हो रहे हैं। इस दौरान देश में 2 करोड़ 60 लाख से ज्यादा परिवारों को उनके घरों में नल से शुद्ध पीने का पानी पहुंचाने का इंतजाम किया गया है। इसमें लाखों परिवार उत्तर प्रदेश के भी हैं।

बीमारियों में भी कमी आ रही
पीएम मोदी ने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत घर-घर पाइप से पानी पहुंचने की वजह से हमारी माताओं-बहनों का जीवन आसान हो रहा है। इसका एक बड़ा लाभ गरीब परिवारों के स्वास्थ्य को भी हुआ है। इससे गंदे पानी से होने वाली अनेक बीमारियों में भी कमी आ रही है।

सीएम योगी आदित्यनाथ बोले
ग्रामीणों को संबोधित करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 70 साल में विंध्य क्षेत्र के केवल 398 गांवों में पेयजल आपूर्ति परियोजनाओं को विनियमित किया जा सका। आज हम इस क्षेत्र के 3000 से अधिक गांवों में ऐसी परियोजनाओं को आगे बढ़ाने के लिए हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password