Piplani Murder Case : 24 घंटे के अंदर अंधे कत्ल का पर्दाफाश, कोई पहचान न सके इस लिए सिर कुचलकर की थी हत्या

Piplani Murder Case : 24 घंटे के अंदर अंधे कत्ल का पर्दाफाश, कोई पहचान न सके इस लिए सिर कुचलकर की थी हत्या

Piplani Murder Case

भोपाल। राजधानी के जम्बूरी मैदान Piplani Murder Case में एक दिन पहले एक युवक की सिर कुचलकर हत्या की गई थी। पुलिस ने 24 घंटे के अंदर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि गुरूवार सुबह जम्बूरी मैदान में सिर कुचली लाश मिलने की सूचना मिली थी। शव की जेब में मिली डायरी से मृतक की पहचान चंदन कहार पिता सुमरे कहार उम्र 25 साल निवासी झुग्गी सतनामी नगर मंदिर के पास पिपलानी स्थाई पता. वारना डैम के पास वाड़ी जिला रायसेन म प्र के रूप में हुई। युवक का शव मिलने के बाद मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई। घटना के बाद उप पुलिस महानिरीक्षक भोपाल द्वारा 25 हजार रूपये का इनाम उद्घोषित किया गया था।

जरूर पढ़ेंः Bhopal Crime News: जंबूरी मैदान में मिली घर से लापता युवक की लाश, लेन-देन के विवाद में सिर कुचल कर हत्या की आशंका

प्रमोद के बड़े भाई हेमंत की दुर्घटना में मृत्यु होने को मृतक चंदन की मानता था शाजिश
आरोपी प्रमोद शिल्पी एवं मृतक चंदन एक ही जगह बाड़ी जिला रायसेन के रहने वाले है व भोपाल में सतनामी नगर में आस.पास रहकर मजदूरी करते थे । करीब 3 माह पहले प्रमोद शिल्पी एवं मृतक चंदन का झगड़ा हो गया था इसके कुछ दिन बाद ही दिनांक 23 नवबंर 2020 को आरोपी प्रमोद के बड़े भाई हेमंत की दुर्घटना में मृत्यु होने पर आरोपी प्रमोज शिल्पी को आशंका है कि उसके भाई की मृत्यु में भी चंदन की शाजिश थी इसलिये प्रमोद बदले की भावना रखता था । योजना के मुताविक प्रमोद शिल्पी ने करीब 15 दिन से मृतक चंदन से दोस्ती कर साथ में शराब पीना चाली कर दिया था ।

इस तरह दिया था अंजाम
पुलिस ने बताया कि आरोपी प्रमोद शिल्पी ने बदला लेने के लिये मृतक चंदन को अयोध्या कलारी पर साथ में शराब पिलाई एवं अपने साडू भाई रेवेन्द्र तथा साला बसंत को रत्नागिरी कलारी पर बुला लिया था। आरोपी प्रमोद मृतक चंदन को लेकर रत्नागिरी कलारी पहुंचा जहां पर रेवेन्द्र एवं बसंत के साथ शराब पी। प्रमोद शिल्पी ने योजनाबद्ध तरीके से चालाकी कर मृतक चंदन को अत्याधिक शराब पिलाई और रेवेन्द्र, प्रमोद, बसंत तीनों मोटर साइकिल पर बीच में मृतक चंदन को बिठाकर जम्बूरी मैदान में सुनसान इलाके में ले जाकर बसंत और रेवेन्द्र ने मृतक चंदन के हाथ.पैर पकड़े और प्रमोद शिल्पी ने पास ही पड़े भारी पत्थर से मृतक चंदन की सिर पर चोट पहुंचाकर हत्या कर तीनों मोटर साइकिल से घर चले गये सुबह मकर संक्राति पर्व होने से आरोपी रेवेन्द्र एवं बसंत नर्मदा स्नान करने होशंगाबाद चले गये थे ।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password