PhonePe-Google Pay Limit: अब इन एप्स पर ट्रांसेक्शन की लिमिट में होगा बदलाव ! RBI का जल्द लेगा फैसला

PhonePe-Google Pay Limit: अब इन एप्स पर ट्रांसेक्शन की लिमिट में होगा बदलाव ! RBI का जल्द लेगा फैसला

PhonePe, Google Pay Limit: डिजिटल पेमेंट करने का चलन जहां पर काफी प्रभावी हो गया है तो वहीं पर जल्द ही ग्राहकों को इन एप्स के जरिए लेनदेन करने के लिए समय सीमा तय की जा रही है जिसके चलते अब तय सीमा से ज्यादा लेनदेन नहीं किया जा सकेगा। यहां पर भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) क्षेत्र के प्लेयर के वॉल्यूम कैप को 30 प्रतिशत तक सीमित करने के लिए प्रस्तावित 31 दिसंबर की समय सीमा के कार्यान्वयन पर रिजर्व बैंक के साथ बातचीत चल रही है।

जानें क्या है NPCI का दायरा

आपको बताते चलें कि, यहां पर भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI) द्वारा लेनदेन की समय सीमा को लेकर बड़ा अपडेट सामने आया है। यहां पर आपको बताते चलें कि, UPI डिजिटल की सभी गतिविधियां आती हैं। अब NPCI क्षेत्र के प्लेयर्स की वॉल्यूम कैप को 30 प्रतिशत तक सीमित करने के लिए बातचीत चल रही है। इसके मोनोपॉली को समझा जाए तो, दो प्लेयर्स Google पे और PhonePe की बाजार हिस्सेदारी लगभग 80 प्रतिशत है। एनपीसीआई ने नवंबर 2022 में एकाग्रता जोखिम (MONOPOLY RISK) से बचने के लिए तीसरे पक्ष के ऐप प्रदाताओं (TPAP) के लिए 30 प्रतिशत वॉल्यूम कैप का प्रस्ताव दिया था। जिसके बाद अब एनपीसीआई इस महीने के अंत तक यूपीआई मार्केट कैप लागू करने के मुद्दे पर फैसला कर सकती है। हालांकि, मौजूदा TPAPs, जैसे कि PhonePe और Google Pay, जो वांछित मार्केट कैप से अधिक है, को निर्देश का पालन करने के लिए अगले साल से दो अतिरिक्त वर्ष दिए हैं।

जानिए क्या होता है यूपीआई

आपको बताते चलें कि, यूपीआई या यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस एक तत्काल रीयल-टाइम भुगतान प्रणाली है जो एक मोबाइल प्लेटफॉर्म के माध्यम से दो बैंक खातों के बीच तुरंत धनराशि स्थानांतरित करने में मदद करती है। इसलिए, यूपीआई अब एक जरिया है जो एक ही मोबाइल एप्लिकेशन में कई बैंक खातों को प्राप्त करने की अनुमति देती है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password