पीडीपी युवा इकाई अध्यक्ष वहीद पारा फिर गिरफ्तार

श्रीनगर, 11 जनवरी (भाषा) पीडीपी युवा इकाई अध्यक्ष वहीद पारा को सोमवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने नेताओं, आतंकवादियों, अलगाववादी ताकतों की कथित साठगांठ से जुड़े एक मामले में फिर से गिरफ्तार कर लिया। पारा को गत शनिवार को एनआईए की एक अदालत ने जमानत प्रदान की थी। यह जानकारी अधिकारियों ने दी।

यह मामला आपराधिक जांच (कश्मीर) रेंज द्वारा दर्ज किया गया था जो आतंकी मामलों की जांच कर रहा है और दो दर्जन से अधिक प्राथमिकी दर्ज की है।

अधिकारियों ने बताया कि पारा को जम्मू में एक अदालत के समक्ष पेश किया गया, जिसने पारा को 18 जनवरी तक पुलिस हिरासत में भेज दिया। अधिकारियों ने कहा कि पारा को पूछताछ के लिए श्रीनगर लाया जाएगा।

पारा को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने 25 नवंबर को हिज्बुल मुजाहिदीन आतंकवादियों के साथ उसके कथित संबंधों से जुड़े एक मामले में गिरफ्तार किया था।

अधिकारियों ने कहा कि हाल ही में दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में अपने गृहनगर से जिला विकास परिषद (डीडीसी) का चुनाव जीतने वाले पारा को एक लाख रुपये की जमानत राशि और उतनी ही राशि के निजी मुचलके पर जमानत दी गई थी।

जम्मू जिला जेल से रिहा होने के बाद पारा को एक सुरक्षा एजेंसी अपने साथ ले गई थी लेकिन यह तत्काल स्पष्ट नहीं हो सका था कि वह किसी अन्य मामले में वांछित था या उसे पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था।

पीडीपी अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने पारा की हिरासत पर चिंता व्यक्त की थी और उसकी रिहाई के लिए उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से हस्तक्षेप करने की मांग की थी।

महबूबा ने एक ट्वीट किया था, ‘‘अदालती कार्यवाही के बाद एनआईए अदालत द्वारा वहीद पारा को जमानत दिये जाने के बावजूद, उन्हें अब जम्मू में सीआईके द्वारा हिरासत में लिया गया है। उन्हें किस कानून के तहत और किस अपराध के लिए गिरफ्तार किया गया है? यह अदालत की अवमानना ​​है। मनोज सिन्हा जी से अनुरोध है कि हस्तक्षेप करें ताकि न्याय हो।’’

भाषा अमित पवनेश

पवनेश शाहिद

शाहिद

Share This

0 Comments

Leave a Comment

पीडीपी युवा इकाई अध्यक्ष वहीद पारा फिर गिरफ्तार

श्रीनगर, 11 जनवरी (भाषा) पीडीपी युवा इकाई अध्यक्ष वहीद पारा को सोमवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने नेताओं, आतंकवादियों, अलगाववादी ताकतों की कथित सांठगांठ से जुड़े एक मामले में फिर से गिरफ्तार कर लिया। पारा को गत शनिवार को एनआईए की एक अदालत ने जमानत प्रदान की थी। यह जानकारी अधिकारियों ने दी।

यह मामला आपराधिक जांच (कश्मीर) रेंज द्वारा दर्ज किया गया था जो आतंकी मामलों की जांच कर रहा है और दो दर्जन से अधिक प्राथमिकी दर्ज की है।

अधिकारियों ने बताया कि पारा को जम्मू में एक अदालत के समक्ष पेश किया गया, जिसने पारा को 18 जनवरी तक पुलिस हिरासत में भेज दिया। अधिकारियों ने कहा कि पारा को पूछताछ के लिए श्रीनगर लाया जाएगा।

पारा को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने 25 नवंबर को हिजबुल मुजाहिदीन आतंकवादियों के साथ उसके कथित संबंधों से जुड़े एक मामले में गिरफ्तार किया था।

अधिकारियों ने कहा कि हाल ही में दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में अपने गृहनगर से जिला विकास परिषद (डीडीसी) का चुनाव जीतने वाले पारा को एक लाख रुपये की जमानत राशि और उतनी ही राशि के निजी मुचलके पर राहत दी गई थी।

जम्मू जिला जेल से रिहा होने के बाद पारा को एक सुरक्षा एजेंसी अपने साथ ले गई थी लेकिन यह तत्काल स्पष्ट नहीं हो सका था कि वह किसी अन्य मामले में वांछित था या उसे पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था।

पीडीपी अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने पारा की हिरासत पर चिंता व्यक्त की थी और उसकी रिहाई के लिए उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से हस्तक्षेप करने की मांग की थी।

महबूबा ने एक ट्वीट किया था, ‘‘अदालती कार्यवाही के बाद एनआईए अदालत द्वारा वहीद पारा को जमानत दिये जाने के बावजूद, उन्हें अब जम्मू में सीआईके द्वारा हिरासत में लिया गया है। उन्हें किस कानून के तहत और किस अपराध के लिए गिरफ्तार किया गया है? यह अदालत की अवमानना ​​है। मनोज सिन्हा जी से अनुरोध है कि हस्तक्षेप करें ताकि न्याय हो।’’

भाषा अमित पवनेश

पवनेश

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password