Corona Update: ऑक्सीजन की कमी के चलते दम तोड़ रहे मरीज, भोपाल में 5 मरीजों की मौत, अस्पतालों में मची भगदड़... -



Corona Update: ऑक्सीजन की कमी के चलते दम तोड़ रहे मरीज, भोपाल में 5 मरीजों की मौत, अस्पतालों में मची भगदड़…

भोपाल। प्रदेश इस समय कोरोना महामारी के दंश से जूझ रहा है। रोजाना हजारों की संख्या में नए मरीज मिल रहे हैं। इनमें से कुछ की हालत तो इतनी गंभीर है कि ऑक्सीजन सिंलेंडर के सहारे सांसे ले रहे हैं। ऐसे में शहर में ऑक्सीजन खत्म होने के कारण 5 मरीजों ने सोमवार को दम तोड़ा है। राजधानी के 20 से ज्यादा अस्पतालों में ऑक्सीजन को लेकर अफरातफरी मची रही। सोमवार को राजधानी के एमपी नगर क्षेत्र में बने सिटी अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म होने के कारण 4 मरीजों ने दम तोड़ दिया। ऑक्सीजन की कमी से मरने वालों में 30 साल के सौरभ गुप्ता, 35 साल के तुषार, 60 साल की उर्मिला जैन और आशा पटेल हैं।

अस्पताल ने ऑक्सीजन खत्म होने के बाद ऑक्सीजन जुटाने का काफी प्रयास किया लेकिन जब तक ऑक्सीजन की व्यवस्था हो पाती तब तक बहुत देर हो चुकी थी। वहीं राजधानी के करोंद क्षेत्र में पीजीबीएम अस्पताल में ऑक्सीजन पर जीवित एक महिला को यह कहकर छुट्टी दे दी कि ऑक्सीजन नहीं है। कहीं और जाकर भर्ती कराएं। महिला के परिवार वाले उसे एंबुलेंस में रखकर अरोग्य निधि अस्पताल ले गए, लेकिन महिला ने तब तक दम तोड़ दिया था। वहीं हमीदिया के पास बने अस्पताल में भी तीन मरीजों को कहा गया कि ऑक्सीजन खत्म हो गई है। किसी और अस्पताल में मरीजों को ले जाइए। इसके बाद आनन फानन में तीनों मरीजों को अन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया।

ऑक्सीजन को लेकर मची भगदड़
बता दें कि ऑक्सीजन की कमी के कारण प्रदेशभर के अस्पतालों में भगदड़ मची है। बता दें कि शहर में ऑक्सीजन सिलेंडर नहीं पहुंचने से हाहाकार मचा है। हमीदिया अस्पातल में भर्ती मरीजों को ऑक्सीजन की कमी के चलते दूसरे अस्पतालों में भर्ती कराने की सलाह देकर छोड़ दिया गया। इसके बाद यहां के मरीजों को आनन फानन में दूसरे अस्पतालों में शिफ्ट किया गया। हमीदिया सहित अन्य सरकारी अस्पतालों में मरीजों की कतारें लगीं है। यहां लगातार मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। ऑक्सीजन की किल्लत अकेले राजधानी में ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश में देखने को मिल रही है। हाल ही में खरगौन में ऑक्सीजन की कमी से मरीजों ने दम तोड़ दिया था।

हालांकि प्रशासन ने इसकी पुष्टि नहीं की थी। बात राजधानी की करें तो यहां भी प्रशासन द्वारा इसकी पुष्टि नहीं की जा रही है। भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया ने कहा कि शहर के कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन खत्म होने की शिकायतें मिलीं थीं। जहां-जहां ऑक्सीजन नहीं है वहां सिलेंडर भेज दिए गए हैं। अगर किसी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से मौत हुई है तो जांच कराई जाएगी। लवानिया ने बताया कि शहर के 80 अस्पतालों में 46 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की सप्लाई की गई है।

Share This

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password