PANIPURI CASE: पानीपुरी ने सैकड़ों लोगों को भेजा अस्पताल,कहीं आप भी तो नहीं खाते ऐसी पानीपुरी

PANIPURI CASE: पानीपुरी ने सैकड़ों लोगों को भेजा अस्पताल,कहीं आप भी तो नहीं खाते ऐसी पानीपुरी

PANIPURI CASE

BHOPAL: रोज शाम होते ही आप गर्मियों में घर से बाहर निकलते हैं।इसी बीच आपको पानीपुरी का ठेला दिख जाता है।आपकी जीभ में पानी आ जाता है। और आवज आती है पानीपुरी..पानीपुरी..पानीपुरी…और आप  पानीपुरी खाने के लिए चल देते हैं।लेकिन रूकिए आप ने देखा कि वहां कितनी साप सफाई है? कहां का पानी जलजीरे में इस्तेमाल किया गया है?और हद तो तब हो जाती है जब आप घर का शुद्ध खाना छोड़कर ऐसा करते हैं।हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि मध्यप्रदेश में एक ऐसी जगह है जहां पानीपुरी खाने से 150 लोग अस्पताल पहुंच गए हैं।इन लोगों में हर उम्र के लोग शामिल हैं बच्चे,बूढ़े,जवान सभी ।आइये जानते हैं पूरा मामला

क्या है पूरा मामला-PANIPURI CASE

मंडला जिले के मोहगवां थाना के अंतर्गत सिंगारपुर में पानी पुरी खाने से कोहराम मच गया ।यहां शनिवार-रविवार रात फूड पॉइजनिंग के चलते करीब 150 लोगों की तबियत बिगड़ गई है।इसमें बच्चे बुजुर्ग और जवान सभी सभी फूड पॉइजनिंग का शिकार हुए हैं।करीब 80 मरीजों को एम्बुलेंस और अन्य वाहनों को एम्बुलेंस और अन्य वाहनों से जिला अस्पताल लाया गया।बाकी 15 से 20 लोगों को मोहगांव स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है।इन मरीजों में भी बड़ी संख्या में बच्चे शामिल हैं। why Diamond city name is panna:जानिए डॉयमंड सिटी पन्ना के नाम के पीछे की हैरान करने वाली कहानी

क्या हुआ घटना के बाद-PANIPURI CASE

जानकारी के मुताबिक जैसे ही मरीजों की हालत का पता चला वैसे ही प्रशासनिक अधिकारी तुरंत अस्पताल पहुंचे।।आस-पास के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के डॉक्टर भी मौके पर पहुंचे और मरीजों का इलाज शुरू किया। मंडला कलेक्टर, केन्द्रीय मंत्री फग्गन सिंह और स्थानीय विधायक डॉक्टर अशोक मर्सकोले भी मरीजों से मिलने मौके पर पहुंच गए। उन्होंने यहां स्थितियों का जायजा लिया।ग्रामीणों से मामले पर बात करने पर बता चला कि,खराब पानी से ऐसे हालात बन गए।साथ ही घटिया क्वालिटी का आइटम इस्तेमाल करना भी कारण बताया गया है।

biryani history: जानिए विदेश से भारत तक बिरयानीकैसे पहुंची?

ये हो सकते हैं नुकसान

गोल गप्पे खाने के फायदे के साथ में कुछ नुकसान भी हैं। ज्यादा गोल गप्पे खाने से डायरिया, डिहाइड्रेशन, उल्टी, दस्त, पीलिया, अल्सर, पाचन क्रिया में गड़बड़ी, पेट में हल्का या तेज दर्द और आंतों में सूजन जैसी समस्या हो सकती है। वहीं गोलगप्पे खाने से ब्लडप्रेशर की शिकायत भी हो जाती है वैसे भी आजकल लोगों में यह समस्या आम होती जा रही है। दरअसल, गोलगप्पे के पानी में  नमक का इस्तेमाल ज्यादा मात्रा में किया जाता है, इससे ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है। इसके अलावा गोलगप्पों को तलने के लिए कई बार इस्तेमाल किए हुए तेल का इस्तेमाल किया जाता है जिससे सेहत खराब होती है।

इन बातों का रखें ख्याल

-गोलगप्पे का पानी घर में ही बनाना चाहिए।

-सूजी के बजाय आटे के गोल गप्पे खाने चाहिए।

-गोलगप्पे में आलू की बजाय आप उबले हुए चने का इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

-लाल चटनी की बजाय दही का इस्तेमाल कर सकते हैं।

DHARMA –HISTROY- JAROORI

ये भी पढ़ें- लिंक पर क्लिक करें-

पढ़िए वो मस्जिद जहां सबसे पहले हुई थी लाउडस्पीकर से अजान

first mosque of india: मुगलों के आक्रमण के 897 साल पहले कैसे बनी भारत की पहली मस्जिद..वजूखाना की जगह यहां है तालाब..

maa Sharda temple:जानिए मैहर के मां शारदा मंदिर में सबसे पहले पूजा कौन और कैसे करता है

Mahrana Pratap javelin:नीरज चोपड़ा के भाले से कितना ज्यादा था महराणा प्रताप के भाले का वजन?

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password