Pandit Pradeep Mishra: सीहोर में पंडित प्रदीप मिश्रा की आज से, केवल इन लोगों को ही मिलेगा प्रवेश

Pandit Pradeep Mishra : सीहोर में पंडित प्रदीप मिश्रा की आज से, केवल इन लोगों को ही मिलेगा प्रवेश

सीहोर। सुप्रसिद्ध कथा वाचक Pandit Pradeep Mishra पंडित प्रदीप मिश्रा की की आज sehore news यानि रविवार से 7 दिवसीय संगीतमयी सीहोर mp news में शुरू होेने जा रही है। आपको बता दें व्यवस्था बनाए रखने के लिए इस बार अच्छे खासे इंतजाम किए गए हैं। भीड़ को नियंत्रण में रखने के लिए इस बार केवल उन्हीं लोगों को प्रवेश दिया जाएगा। जिनके पास प्रवेश पत्र होगा। हर किसी को कथा का रसपान करने की अनुमति नहीं होगी। बीते कुछ दिनों पहले हुई दुर्घटना को ध्यान में रखते हुए प्रबंधन द्वारा ये खास कदम उठाय गया है।

ये लोग उठा पाएंगे कथा का आनंद –
आपको बता दें पंडित प्रदीप मिश्रा के द्वारा सात दिवसीय संगीतमय श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें भारी सख्या में श्रद्धालु रोजाना कथा का रसपान करेंगे। कथा में आनेवाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की दिक्कत न हो इसके लिए विशेष तैयारियां की गई हैं।

यहां होगी कथा –
प्राप्त जानकारी के अनुसार पंडित प्रदीप मिश्रा की संगीतमयी कथा का आयोजन 4 सितंबर से सीहोर के बड़ा बाजार स्थित अग्रवाल धर्मशाला सीहोर में सात दिवसीय संगीतमय श्रीमद्भागवत कथा का भव्य आयोजन हो रहा है। आपको बता दें अग्रवाल महिला मंडल द्वारा पिछले 24 सालों से ये आयोजन करवाया जा रहा है। इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए आज रविवार से पंडित प्रदीप मिश्रा द्वारा कथा का वाचन शुरू हो रहा है। आपको बता दें इसके लिए समाज की ओर से श्रद्धालुओं के बैठने, पानी आदि की भरपूर व्यवस्था की गई है।

इस तरह मिलेगा प्रवेश –
प्राप्त जानकारी के अनुसार कथा स्थल जितने लोगों के बैठने की व्यवस्था है उतने ही लोगों को प्रवेश दिया जाएगा। जिसके चलते ऐसा माना जा रहा है कि अंदर किसी भी प्रकार की अव्यवस्थाएं हो पाएं। ऐसे में बाहर से आने वाले श्रद्धालु पहले प्रवेश पत्र का इंतजाम रखें। ताकि उन्हें किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो। अन्यथा उन्हें बाहर बैठकर ही कथा सुननी पड़ेगी। कथा की शुरूआत भव्य शोभायात्रा से होगी। जो श्री सत्यनारायण मंदिर बड़ा बाजार से प्रारंभ होकर शहर के मुख्य बाजारों से होती हुई कथा पांडाल में पहुंचकर संपन्न होगी। यहां प्रतिदिन सात दिनों तक पंडित प्रदीप मिश्रा के मुखारबिंद से कथा का वाचन किया जाएगा।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password