पाकिस्तान में पुलिस और आर्मी के बीच हुई फायरिंग, गृह युद्ध की बढ़ी संभावना

पूर्व प्रधानमंत्री नावाज शरीफ (Nawaz sharif) के दामाद मोहम्मद सफदर (Mohd Safdar) की गिरफ्तारी को लेकर पाकिस्तान में ‘गृह युद्ध’ (Civil War) की स्थिति उत्पन्न हो गई है। सिद्धू पुलिस और पाकिस्तान आर्मी (Pakistan Army) के बीच इस हुई गोलीबारी में कराची के पुलिस अधिकारियों की जान जाने के बाद पाकिस्तान में गृह युद्ध की संभावना बढ़ गई है।

आर्मी पर किडनैपिंग का आरोप

सिंध पुलिस ने ट्वीट करते हुए आरोप लगाया है कि सफदर की गिरफ्तारी के आदेश जारी कराने के लिए पाकिस्तान रेंजर्स के जवानों ने सिंध पुलिस चीफ को किडनैप कर लिया था। हालांकि इन आरोपों को लेकर पाकिस्तान आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा (Army Chief General Qamar Javed Bajwa) ने पूरे मामले में जांच के आदेश दिए हैं।

वहीं सिंध पुलिस की ओर एक बयान जारी किया गया है जिसमें उन्होंने बताया कि सेना के जवानों ने आईजी सिंध को जबरदस्ती घर से उठा ले गए। इसके बाद मोहम्मद सफदर की गिरफ्तारी के आदेश पर दस्तखत करने के लिए उनको मजबूर किया गया।

पाकिस्तान में हालात बेहद खराब

इस घटना के बाद से ही पाकिस्तान में हालात बहुत खराब हो गए हैं। सिंध प्रांत की पुलिस ने पाकिस्‍तानी सेना के बढ़ रहे हस्‍तक्षेप को रोकने के लिए ‘विद्रोह’ का बिगूल बजा दिया है।

ये है पूरा मामला

दरअसल दो दिन पहले पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के दामाद कैप्टन सफदर पत्नी मरियम के साथ कराची के एक होटल में रुके हुए थे। जिन्हें फौज और रेंजर्स ने होटल से ही गिरफ्तार कर लिया था। आर्मी की इस कार्रवाई से सिंध प्रांत की पुलिस में भारी नाराजगी है। नाराजगी जाहिर करते हुए आईजी समेत सभी आला अधिकारियों ने छुट्टी पर जाने का ऐलान कर दिया है। हालांकि आईजी से बातचीत के बाद पुलिस अफसरों ने अब 10 दिन बाद छुट्टी पर जाने का फैसला किया है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password