Oscar Awards 2022: ‘Drive My Car’ को इंटरनेशनल फिल्म का मिला खिताब, कई फिल्में थी इस श्रृंखला में शामिल

Oscar Awards 2022: मशहूर लेखक हारुकी मुराकामी की लघु कथा पर आधारित निर्देशक यूसुके हमागुची की जापानी भाषा की फिल्म ‘ड्राइव माय कार’ को ऑस्कर में ‘ड्राइव माय कार’ फिल्म के पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इस श्रेणी में ‘ड्राइव माय कार’ के अलावा, डेनमार्क से ‘फ्ली’, इटली से ‘द हैंड ऑफ गॉड’, भूटान से ‘लुनाना: ए याक इन द क्लासरूम’ (भूटान) और नॉर्वे से ‘द वर्स्ट पर्सन इन द वर्ल्ड’ भी दौड़ में थी।

 

हमागुची ने पुरस्कार मिलने पर कहा, ‘‘ मैं यहां पहुंचे सभी अभिनेताओं को धन्यवाद करना चाहता हूं और जो यहां नहीं पहुंच पाए उनका भी धन्यवाद करता हूं।’’ हिदेतोशी निशिजिमा और टोको मिउरा अभिनीत यह फिल्म मानवीय संबंधों पर आधारित है। फिल्म की कहानी एक प्रसिद्ध मंच अभिनेता एवं निर्देशक युसुके काफुकु (निशिजिमा) के इर्द-गिर्द घूमती है, जिन्हें अपनी पत्नी की आकस्मिक मृत्यु के दो साल बाद हिरोशिमा में एक थिएटर फेस्टिवल में आंतोन चेखव के नाटक ‘अंकल वान्या’ के निर्देशन का प्रस्ताव मिलता है। वहां, उनकी मुलाकात एक युवती मिसाकी वतारी (मिउरा) से होती हैं और उनकी जिंदगी में कई बदलाव आते हैं।

 

‘ड्राइव माय कार’, 1985 में आई अकीरा कुरोसावा की ‘रैन’ (1985) के बाद सबसे अधिक श्रेणी में नामांकित दूसरी जापानी फिल्म है। फिल्म को इससे पहले ‘गोल्डन ग्लोब’ और ‘बाफ्टा’ पुरस्कार में भी सम्मानित किया गया था। ‘ड्राइव माय कार’ का 2021 ‘कान्स फिल्म महोत्सव’ में वर्ल्ड प्रीमियर हुआ था, जहां इसने सर्वश्रेष्ठ पटकथा का पुरस्कार जीता था। फिल्म को ‘मूबी इंडिया’ पर देखा जा सकता है।

जानें और भी अपडेट- 

दूसरे बधिर व्यक्ति बने कोत्सुर

फिल्म कोडा के अभिनेता ट्रॉय कोत्सुर ने ऑस्कर में पुरस्कार जीतने वाले दूसरे बधिर व्यक्ति बनकर इतिहास रच दिया है। कोत्सुर को सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता का पुरस्कार मिला। उनकी सह-कलाकार रहीं मार्ली मैटलिन ने 35 साल से अधिक समय पहले ‘चिल्ड्रन ऑफ ए लेसर गॉड’ (1986) के लिए मुख्य अभिनेत्री का ऑस्कर जीता था। वह ऑस्कर जीतने वाली पहली बधिर कलाकार हैं। कोत्सुर ने अपनी जीत को बधिर, दिव्यांग और ‘कोडा’ समुदाय को समर्पित की। भावुक कोत्सुर ने अमेरिकी सांकेतिक भाषा (एएसएल) के एक दुभाषिए के माध्यम से अपने संबोधन में कहा, ‘‘यहां होना आश्चर्यजनक है। मुझे विश्वास नहीं हो रहा कि मैं यहां हूं। मेरे काम को मान्यता देने के लिए अकादमी को धन्यवाद।’’ अभिनेता ने कहा कि उन्हें बेहद खुशी है कि उनकी फिल्म ‘कोडा’ दुनिया भर में देखी गई। उन्होंने कहा, ‘‘यह व्हाइट हाउस तक भी पहुंच गई,

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password