पांच राज्यों का ओपिनियन पोल: बंगाल में दीदी की वापसी, जानिए चार और राज्यों में क्या है स्थिति

Opinion poll

नई दिल्ली। देश में इस वक्त पांच राज्यों में चुनाव हो रहे हैं। जिसमें पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल और पुडुचेरी शामिल है। इन सभी राज्यों के विधानसभा चुनाव को लेकर टाइम्स नाऊ-सी वोटर ने अपना ओपिनियन पोल जारी किया है। आईए जानते हैं इस ओपिनियन पोल में कौन सी पार्टी कहां बाजी मार रही है।

टाइम्स नाऊ-सी वोटर के सर्वे के अनुसार BJP की ओर से मिल रही चुनौती के बावजूद बंगाल में TMC सत्ता में वापसी कर रही है। इसके अलावा केरल में भी LDF सत्ता बचाने में कामयाब रहेगा। जबकि तमिलनाडु में DMK की वापसी हो सकती है, तो वहीं असम में BJP को कड़ी चुनौती मिल रही है।

बंगाल में BJP सत्ता से रहेगी दूर

सर्वे के अनुसार पश्चिम बंगाल में TMC तीसरी बार सरकार बनाने जा रही है। पार्टी को 160 सीटें मिल सकती है। हालांकि इस बार के चुनाव में TMC की सीटें कम हो सकती है। बतादें कि पार्टी ने पिछले चुनाव में 211 सीटें जीती थीं। वहीं बंगाल में 200 सीटें जीतने का दावा कर रही भाजपा इस बार भी सत्ता से दूर ही रहेगी। हालांकि उसे पिछले चुनाव के मुकाबले बंपर सीटें मिल सकती हैं। लेकिन ये सीटें पार्टी को सत्ता तक नहीं पहुंचा सकती। पोल के अनुसार भाजपा इस चुनाव में 100 या इससे ज्यादा सीटें ला सकती है। जबकि पिछले चुनाव में उसे महज 3 सीटें ही मिली थीं। भाजपा ने इस चुनाव में जमीनी स्तर पर काम किया है इस कारण से उसके वोट प्रतिशत भी बढ़ सकते हैं।

मुख्यमंत्री के तौर पर पहली पसंद हैं ममता बनर्जी

वहीं गठबंधन में चुनाव लड़ रहीं कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियों को बड़ा नुकसान हो सकता है। गठबंधन को महज 25-26 सीटें मिल सकती हैं। वहीं 292 सीटों पर होने वाले पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी को सबसे ज्यादा लोग पसंद करते हैं। उन्हें करीब 55 प्रतिशत लोग पसंद करते हैं, जबकि दूसरे नंबर पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष को वोटर्स मुख्यमंत्री के तौर पर देखना चाहते हैं।

तमिलनाडु में AIADMK सत्ता से होगी बाहर

234 विधानसभा सीटों वाले दक्षिण भारत के राज्य तमिलनाडु में DMK और कांग्रेस की गठबंधन सत्ता में वापसी कर सकती है। जबकि सरकार चला रही AIADMK और उसकी सहयोगी पार्टी भाजपा की सरकार जा सकती है। ओपिनियन पोल के अनुसार DMK और कांग्रस गठबंधन इस चुनाव में 177 सीटें जीत सकती है। जबकि AIADMK और उसकी सहयोगी पार्टी महज 49 सीटों पर सिमट सकती है। जबकि अन्य पार्टियों को 3 सीटें मिलने का अनुमान है। वहीं मुख्यमंत्री के तौर पर राज्य में DMK चीफ एमके स्टालिन लोगों की पहली पसंद है, उन्हें 43.1% लोग सीएम के रूप में देखना चाहते हैं। जबकि वर्तमान में CM ई के पलानीस्वामी को सिर्फ 29.7% लोग ही फिर से सीएम बनाना चाहते हैं।

असम में कड़ी टक्कर

वहीं असम की बात करें तो यहां NDA और UPA के बीच करीबी लड़ाई देखने को मिल सकती है। 126 सदस्यों वाली विधानसभा में सत्ता पक्ष NDA को 69 और UPA को 56 सीटें मिल सकती हैं। मालूम हो कि इस बार असम में कांग्रेस बदरूद्दीन अजमल की पार्टी AIUDF, बोडो पीपुल्स फ्रंट और 3 लेफ्ट पार्टियों के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ रही है। ऐसे में यहां कड़ी टक्कर देखने को मिल सकती है।

बता दें कि साल 2016 में NDA ने 86 सीटें जीतकर असम में सत्ता हासिल की थी। जबकि UPA सिर्फ 26 सीटें जीतने में कामयाब रही थी। वहीं अगर मुख्यमंत्री के तौर पर पहली पसंद की बात करें तो सर्बानंद सोनोवाल अभी भी 46% के साथ लोगों की पहली पसंद हैं। जबकि उनके बाद कांग्रेस के गौरव गोगोई को 25% लोग सीएम के तौर पर देखना चाहते हैं।

केरल में फिर से सत्ता में LDF

पोल में केरल के सत्ताधारी पार्टी LDF को फिर से सत्ता में वापसी का अनुमान लगाया गया है। 140 सीटों वाले केरल विधानसभा में LDF 77 सीटों पर जीत हासिल कर सकता है। हालांकि पिछले चुनाव के मुकाबले इसबार सीटें कम हो सकती हैं। 2016 में इस गठबंधन को 91 सीटें मिली थीं। जबकि कांग्रेस की अगुवाई वाले UDF को थोड़ी बढ़ते मिल सकती है। लेकिन ये बढ़त इतनी नहीं होगी कि वो सत्ता में आ सके। सर्वे में UDF को 62 सीटें दी गई हैं।

पुडुचेरी में NDA मजबूत

पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में पुडुचेरी ही एक ऐसा राज्य है जहां NDA मजबूत स्थिती में है। 30 सदस्यों वाले सदन में NDA 21 सीटों पर जीत कर सत्ता में वापसी कर सकती है। जबकि कांग्रेस और DMK गठबंधन यहा सिर्फ 9 सीटें ही जीत पाएगा।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password