National Florence Nightingale Award: इन दो राज्यों की नर्सों को मिला सम्मान

National Florence Nightingale Award: इन दो राज्यों की नर्सों को मिला सम्मान, जानें क्या है खबर

Odisha। ओडिशा के बरहामपुर में स्थित सरकारी एमकेसीजी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल की नर्सिंग अधिकारी शिबानी दास तथा पश्चिम बंगाल के एक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत नर्स स्मिता कर को 2021 के राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगेल अवार्ड के लिये चुना गया है ।

अस्पताल के एक अधिकारी ने सोमवार को इसकी जानकारी दी । सर्वोच्च नर्सिंग पुरस्कार के लिये चुनी गयी स्मिता कर पश्चिम बंगाल के अलीपुरद्वार जिले के फलकता ब्लॉक के तसाती चाय बागान में एक सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत हैं । दास एवं कर को भारतीय नर्सिंग परिषद (आईएनसी) द्वारा स्थापित देश के सर्वोच्च नर्सिंग सम्मान के लिए चुना गया है।एमकेसीजी अस्पताल के अधीक्षक संतोष कुमार मिश्र ने बताया कि पचास वर्षीय दास को भारतीय नर्सिंग परिषद (आईएनसी) द्वारा उनकी सेवाओं के लिये, खास तौर से कोविड महामारी के दौरान उनकी सेवाओं के आलोक में देश के इस सर्वोच्च नर्सिंग पुरस्कार के लिए चुना गया है जो सेवा के प्रति उनकी समर्पण को रेखांकित करता है ।

दूसरी ओर, ड्यूटी समाप्त होने के बाद आदिवासी समाज में जागरूकता फैलाने के लिये कर को इस पुरस्कार के लिये चुना गया है । राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद एक समारोह में दास और कर को यह प्रतिष्ठित पुरस्कार प्रदान करेंगे । इसके लिये फिलहाल तारीख का अभी ऐलान नहीं किया गया है। इस पुरस्कार के लिये दास और कर के चयन के बारे में संबंधित स्वास्थ्य विभागों को सूचित कर दिया गया है । दास ने कहा, ‘‘मैं देश में सर्वोच्च नर्सिंग सम्मान के लिए चुने जाने पर बहुत खुश हूं। यह दूसरों को लोगों की अधिक सेवा करने के लिए प्रोत्साहित करेगा।’’ कर ने कहा, ‘‘मैं अपने सहकर्मियों और परिवार को हमेशा मेरा साथ देने के लिये धन्यवाद देती हूं। उनके समर्थन के बिना, यह संभव नहीं होता।’’

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password