CoronaVirus in India: अब कोरोना मचा रहा तबाही, 24 घंटे में कम आए एक्टिव केस पर मौतों का आंकड़ा बढ़ा

CoronaVirus in India: अब कोरोना मचा रहा तबाही, 24 घंटे में कम आए एक्टिव केस पर मौतों का आंकड़ा बढ़ा

Share This

नई दिल्ली। (भाषा) लगातार चार दिन कोरोना वायरस संक्रमण के चार लाख से अधिक नए मामले सामने आने के बाद भारत में सोमवार को एक दिन में कोविड-19 के 3,66,161 मामले सामने आए और इसी के साथ देश में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 2,26,62,575 हो गए। स्वास्थ्य मंत्रालय के सोमवार को सुबह आठ बजे तक अद्यतन किए गए आंकड़ों के अनुसार, 3,754 और लोगों की संक्रमण के कारण मौत होने के बाद कुल मृतक संख्या बढ़कर 2,46,116 हो गई।

देश में उपचाराधीन मामलों की संख्या बढ़कर 37,45,237 हो गई, जो संक्रमण के कुल मामलों का 16.53 प्रतिशत है, जबकि संक्रमित लोगों के स्वस्थ होने की दर 82.39 प्रतिशत है। आंकड़ों के अनुसार, अब तक 1,86,71,222 लोग संक्रमित होने के बाद ठीक हो चुके हैं, जबकि मृत्युदर 1.09 प्रतिशत है। भारत में कोविड-19 के मामले पिछले साल सात अगस्त को 20 लाख का आंकड़ा पार कर गए थे। इसके बाद संक्रमण के मामले 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख के पार चले गए थे।

वैश्विक महामारी के मामले पिछले साल 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ का आंकड़ा पार कर गए थे। भारत में महामारी के मामले चार मई को दो करोड़ के पार चले गए थे। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के मुताबिक, अब तक 30,37,50,077 नमूनों की जांच की गई, जिनमें से 14,74,606 नमूनों की जांच रविवार को की गई।

संक्रमण से पिछले 24 घंटे में जिन 3,754 और लोगों की मौत हुई है, उनमें से महाराष्ट्र में 572, कर्नाटक में 490, उत्तर प्रदेश में 294, दिल्ली में 273, तमिलनाडु में 236, पंजाब में 191, छत्तीसगढ़ में 189, उत्तराखंड में 180, राजस्थान में 159, हरियाणा में 151, पश्चिम बंगाल में 124 और गुजरात में 121 लोगों की मौत हुई है। देश में अब तक 2,46,116 लोगों की मौत संक्रमण से हुई है, जिनमें से महाराष्ट्र में 75,849, दिल्ली में 19,344, कर्नाटक में 18,776, तमिलनाडु में 15,648, उत्तर प्रदेश में 15,464, पश्चिम बंगाल में 12,327, छत्तीसगढ़ में 10,570 और पंजाब में 10,506 लोगों की मौत हुई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि जिन मरीजों की मौत हुई है, उनमें से 70 प्रतिशत से अधिक मरीज अन्य बीमारियों से भी पीड़ित थे।

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password