Taj Mahal: अब चांदनी रात में कर सकेंगे ताज का दीदार, जिला प्रशासन ने दी अनुमति -

Taj Mahal: अब चांदनी रात में कर सकेंगे ताज का दीदार, जिला प्रशासन ने दी अनुमति

Taj Mahal

आगरा। कोविड-19 के चलते रात में दीदार के लिये एक साल से बंद ताजहमल को 21 अगस्त से फिर से खोल दिया जाएगा। जिला प्रशासन ने शुक्रवार को इसकी अनुमति दे दी। पुरातत्व विभाग के आधिकारिक प्रवक्ता मनु शर्मा ने बताया कि कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए रात में ताजमहल का दीदार किया जा सकेगा।

पिछले वर्ष कोरोना वायरस महामारी की पहली लहर में 17 मार्च को ताजमहल को बंद कर दिया गया था। 188 दिनों के लॉकडाउन के बाद 21 सितंबर को ताजहमल को खोला गया था। दूसरी लहर में ताजमहल 16 अप्रैल से 15 जून तक बंद रहा। 16 जून से स्मारक पर्यटकों के लिए खोल दिया गया। ताजमहल को दिन में खोलने की अनुमति तो मिल गई थी, लेकिन रात्रि दर्शन पर पाबंदी है।

अब इसे रात में खोलने की अनुमति भी मिल गयी है। एएसआई अधीक्षण पुरातत्वविद् (आगरा सर्कल) वसंत कुमार स्वर्णकार ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि 21, 23 और 24 अगस्त को रात्रि दर्शन की अनुमति दी जाएगी क्योंकि स्मारक हर सप्ताह शुक्रवार को बंद रहता है और रविवार को लॉकडाउन लागू है।

उन्होंने कहा कि, आगंतुकों के लिए तीन समय स्लॉट हैं। रात 8:30-9 बजे, 9-9:30 बजे और रात 9:30-10 बजे। उन्होंने कहा, ”उच्चतम न्यायालय के दिशा-निर्देशों के अनुसार प्रत्येक स्लॉट में 50 पर्यटकों को ताज के दीदार की अनुमति दी जाएगी।”

कुमार ने कहा, ”आगरा में 22 माल रोड स्थित एएसआई कार्यालय के काउंटर से एक दिन पहले टिकट बुक किया जा सकता है।” टूरिज्म गिल्ड ऑफ आगरा के उपाध्यक्ष राजीव सक्सेना ने कहा कि यह एक अच्छा कदम है, लेकिन रविवार को लॉकडाउन और रात 10 बजे के बाद कर्फ्यू नहीं हटाए जाने तक इससे सप्ताहांत में आने वाले यात्री आकर्षित नहीं होंगे।

उन्होंने कहा, ”पर्यटक शहर के रात्रि जीवन का आनंद लेना चाहते हैं। वे रात 10 बजे के बाद अपने होटलों में नहीं रहना चाहते।” सरकार द्वारा अनुमोदित टूर गाइड मोनिका शर्मा ने इस कदम की सराहना की और कहा कि यह आगरा के पर्यटन क्षेत्र के पुनरुद्धार के लिए आशा की किरण है।

गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय के आदेश पर नवंबर 2004 में करीब 20 वर्षों के बाद ताजमहल को दोबारा रात में खोला गया था। पूर्णिमा के अवसर पर महीने में पांच दिन ताजमहल रात को खोलने की व्यवस्था की गई थी। तभी से माह में पांच दिन (पूर्णिमा, उससे दो दिन पूर्व और दो दिन बाद) रात में ताजमहल खोला जाने लगा, लेकिन 2020 में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों में वृद्धि के चलते इसे बंद कर दिया गया।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password