Night Curfew In MP: भोपाल-इंदौर में 15 मार्च से लग सकता है नाइट कर्फ्यू, सीएम ने दिए आदेश- नई SOP जारी करेगा गृह विभाग

भोपाल। प्रदेश में एक बार फिर कोरोना पैर पसारता दिख रहा है। प्रदेश के कई जिलों में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ी है। रोजाना नए संक्रमित मरीजों के सामने आने से सरकार एक बार फिर सख्ती से निपटने की तैयारी कर रही है। इसको लेकर शुक्रवार को सीएम शिवराज सिंह ने देर शाम मंत्रालय में बैठक बुलाई थी। इसमें तय किया गया, इंदौर और भोपाल में हॉल में होने वाले कार्यक्रमों में क्षमता से 50 प्रतिशत तक लोगों के शामिल होने की अनुमति दी जाए।

वहीं मुख्यमंत्री ने कहा कि दोनों शहरों में 14-15 मार्च से नाइट कर्फ्यू लगाने पर विचार किया जाए। शिवराज सिंह ने इस बैठक में गृह विभाग को नई SOP (स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर) जारी करने के आदेश दिए हैं। बैठक में यह तय किया गया है कि कोरोना के रोकथाम के उपायों को नजरअंदाज न किया जाए। लोगों की बाजारों में बढ़ती भीड़ को रोकने के लिए कदम उठाए जाएं। वहीं एक स्थान पर ज्यादा लोगों के भीड़ लगाने की अनुमति न दी जाए। हालांकि यह नियम केवल उन जिलों में लगाए जाने पर सहमित बनी है जहां रोजाना 10 से ज्यादा मरीज कोरोना संक्रमित निकल रहे हैं।

इस जिलों में आ रहे रोजाना केस…
बैठक में बताया गया कि भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, छिंदवाड़ा, सागर, रतलाम, बैतूल, बुरहानपुर, उज्जैन, खरगोन और रीवा में रोजाना 10 से अधिक केस आ रहे हैं। यहां पर बाजारों में दुकानों पर रस्सी बांधकर कोरोना के नियमों का पालन किया जाना चाहिए। पिछले 24 घंटों में 603 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। इनमें से सबसे आगे इंदोर शहर है। यहां से 219 नए मरीजऔर भोपाल से 138 संक्रमित मिले हैं। बता दें कि बीते दिनों महाराष्ट्र में नए मरीजों की खबर सामने आने के बाद महाराष्ट्र से लगे मप्र के क्षेत्रों में भी संक्रमण बढ़ा था। अब सरकार कोरोना के एक बार फिर पैर पसारने से पहले ही रोकथाम पर जुट गई है। इसको लेकर सीएम शिवराज सिंह ने सख्त निर्देश दिए हैं। इसी संदर्भ में गृह विभाग जल्द ही नई SOP भी जारी करने जा रहा है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password