नये साल के पहले दिन बाजार रिकार्ड ऊंचाई पर, निफ्टी 14,000 अंक के पार

मुंबई, एक जनवरी (भाषा) नये साल के पहले दिन बाजार में तेजी का सिलसिला जारी रहा और बीएसई सेंसेक्स शुक्रवार को रिकार्ड ऊंचाई पर जबकि एनएसई निफ्टी पहली बार 14,000 अंक के ऊपर बंद हुआ।

आईटी, वाहन और दैनिक उपभोग का सामान बनाने वाली कंपनियों के शेयरों में लिवाली से बाजार में तेजी आयी।

तीस शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स लगातार पांचवें दिन रिकार्ड स्तर पर बंद हुआ। शुक्रवार को यह 117.65 अंक यानी 0.25 प्रतिशत की बढ़त के साथ 47,868.98 अंक की रिकार्ड ऊंचाई पर बंद हुआ।

यह लगातार आठवां कारोबारी सत्र है जब सूचकांक मजबूत हुआ और 22 दिसंबर से इसमें करीब 5 प्रतिशत की तेजी आयी।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 36.75 अंक यानी 0.26 प्रतिशत की बढ़त के साथ अब तक के उच्चतम स्तर 14,018.50 अंक पर बंद हुआ।

कारोबार के दौरान, निफ्टी 14,049.85 जबकि सेंसेक्स 47,980.36 की रिकार्ड ऊंचाई को छू गया था।

सेंसेक्स में शामिल शेयरों में आईटीसी में सर्वाधिक 2.32 प्रतिश्त की तेजी आयी। इसके अलावा टीसीएस, महिंद्रा एंड महिंद्रा और भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) और भारती एयरटेल में भी अच्छी तेजी रही।

टीसीएस ने कहा कि उसके निदेशक मंडल की आठ जनवरी को बैठक होगी जिसमें वित्तीय परिणाम को मंजूरी दी जाएगी और शेयरधारकों को तीसरा अंतरिम लाभांश दिये जाने के प्रस्ताव पर विचार किया जाएगा। इस घोषणा के बाद कंपनी का शेयर 2.02 प्रतिशत मजबूत हुआ।

अन्य आईटी कंपनियों में टेक महिंद्रा 0.23 प्रतिशत, इन्फोसिस 0.36 प्रतिश्त और एचसीएल टेक 0.43 प्रतिशत मजबूत हुए। डा. रेड्डीज, एल एंड टी, सन फार्मा, एक्सिस बैंक, इंडसइंड बैंक, नेस्ले और अल्ट्राटेक सीमेंट में भी तेजी रही।

दिसंबर में बिक्री अच्छी रहने से वाहन कंपनियों के शेयरों में तेजी रही। देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति की बिक्री दिसंबर 20 प्रतिशत बढ़ी। कंपनी का शेयर 0.53 प्रतिशत जबकि बजाज ऑटो 1.03 प्रतिशत मजबूत हुआ। महिंद्रा एंड महिंद्रा में 1.62 प्रतिशत की तेजी आयी।

हालांकि, आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक में मुनाफावसूली के कारण क्रमश: 1.36 प्रतिशत और 0.83 प्रतिशत की गिरावट आयी। इसके अलावा जिन अन्य शेयरों में गिरावट दर्ज की गयी, उनमें टाइटन, बजाज, फिनसर्व, बजाज फाइनेंस और एनटीपीसी शामिल हैं।

साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 895.44 अंक यानी 1.90 प्रतिशत जबकि निफ्टी 269.25 अंक यानी 1.95 प्रतिशत मजबूत हुए।

एलकेपी सिक्योरिटीज के शोध प्रमुख एस रंगनाथन ने कहा, ‘‘जीएसटी संग्रह में उछाल के साथ नये साल के पहले दिन बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ। हमने कंपनियों के तिमाही नतीजे से पहले कुछ शेयरों के प्रति निवेशकों का आकर्षण देखा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘टीसीएस की अगुवाई में तेजी आयी जबकि वाहन कंपनियों ने उसे गति दी। कई वाहन कंपनियों ने दाम बढ़ाये जाने की शुक्रवार को घोषणा की।’’

इस बीच, जीएसटी संग्रह दिसंबर में रिकार्ड 1.15 लाख करोड़ रुपये पहुंच गया। यह त्योहारों के दौरान मांग बढ़ने और अर्थव्यवस्था में तेजी को बताता है।

वर्ष 2020 में सेंसेक्स और निफ्टी में करीब 15 प्रतिशत की तेजी आयी। सेंसेक्स 15.7 प्रतिशत जबकि निफ्टी 14.9 प्रतिशत मजबूत हुआ।

शेयर बाजारों में तेजी का मुख्य कारण एफपीआई (विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों) का पूंजी प्रवाह है। शेयर बाजार के पास उपलब्ध अस्थायी आंकड़े के अनुसार एफपीआई ने बृहस्पतिवार को 1,135.59 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे।

अमेरिकी शेयर बाजार भी बृहस्पतिवार को रिकार्ड ऊंचाई पर बंद हुआ।

पिछले साल एस एंड पी 500 सूचकांक 16.3 प्रतिशत, नैसदैक 43.6 प्रतिशत और डो जोंस इंडस्ट्रियल एवरेज 7.2 प्रतिशत मजबूत हुए।

शुक्रवार को नये साल के मौके पर ज्यादातर वैश्विक बाजार बंद रहे।

भाषा

रमण महाबीर

महाबीर

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password