New Parliament Building: पीएम मोदी ने रखी नए संसद भवन की नींव, भूमि पूजन और सर्वधर्म प्रार्थना भी की गई

New Parliament Building: पीएम मोदी ने रखी नए संसद भवन की नींव, भूमि पूजन और सर्वधर्म प्रार्थना भी की गई

Image Source: [email protected]

New Parliament Building: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दिल्ली में देश के लिए नए संसद भवन की नींव रख दी है। नए संसद भवन की आधारशिला रखने के साथ ही नए भवन के लिए भूमिपूजन और सर्वधर्म प्रार्थना भी की गई। पीएम मोदी ने देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा, आज का दिन बहुत ही ऐतिहासिक है। आज का दिन भारत के लोकतांत्रिक इतिहास में मील के पत्थर की तरह है। हम भारत के लोग मिलकर अपनी संसद के इस नए भवन को बनाएंगे। और इससे सुंदर क्या होगा, इससे पवित्र क्या होगा कि जब भारत अपनी आजादी के 75 वर्ष का पर्व मनाए, तो उस पर्व की साक्षात प्रेरणा, हमारी संसद की नई इमारत बने।

 

पीएम ने कहा, वर्षों से नए संसद भवन की जरूरत महसूस की गई है। ऐसे में हम सभी का दायित्व है कि 21वीं सदी के भारत को एक नया संसद भवन मिले। इसी कड़ी में ये शुभारंभ हो रहा है। पुराने संसद भवन ने स्वतंत्रता के बाद के भारत को दिशा दी, तो नया भवन आत्मनिर्भर भारत के निर्माण का गवाह बनेगा। पुराने भवन में देश की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए काम हुआ, तो नए भवन में 21वीं सदी के भारत की आकांक्षाएं पूरी की जाएंगी

संसद भवन की नींव रखे जाने के कार्यक्रम में कई दिग्गज हस्तियों ने शिरकत की हैं। उद्योगपति रतन टाटा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और अन्य कई केंद्रीय मंत्री कार्यक्रम स्थल पर मौजूद हैं। नए संसद भवन के शिलान्यास को लेकर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पीएम मोदी दो चिट्ठी लिखकर प्रदेशवासियों की तरफ से बधाई दी है। सीएम शिवराज ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

बता दें कि, अभी तक अंग्रेजों के जमाने के बनाए हुए संसद भवन में कामकाज हो रहा था। अब देश को आधुनिक सुविधाओं वाला नया संसद भवन मिलेगा। संसद की नई बिल्डिंग का निर्माण कार्य 2022 तक पूरा होगा, जब भारत अपनी आजादी की 75वीं वर्षगांठ बना रहा होगा।

संसद भवन की नई बिल्डिंग केंद्र सरकार के सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के तहत बन रही है। नई बिल्डिंग 65,000 वर्ग मीटर में फैली होगी। नए भवन का डिजाइन त्रिकोणीय होगा जिसका नजारा आसमान से देखने पर तीन रंगो की किरणों जैसा होगा। सांसदों के बैठने की व्यवस्था और सीटिंग अरेंजमेंट ज्यादा आरामदायक होगा। टू सीटर बैंच की व्यवस्था होगी यानी एक टेबल पर दो सांसद ही बैठ सकेंगे।

नए संसद भवन में 1224 सांसदों के बैठने की व्यवस्था होगी। लोकसभा में एक साथ 888 और राज्यसभा में 384 सांसद बैठ सकेंगे। नए भवन में हर सांसद का अपना एक दफ्तर होगा। बिल्डिंग की कुल लागत 971 करोड़ अनुमानित है। यह प्रोजेक्ट अगस्त 2022 तक पूरा हो सकता है।

 

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password