New Guidelines for Home Isolation in MP: होम आइसोलेशन को लेकर जारी नई गाइडलाइन, अब इन नियमों का करना होगा पालन

New Guidelines for Home Isolation in MP: कोरोना मरीजों के बढ़ते संक्रमण के बाद अस्पतालों में बेड़ फुल हो गए हैं तो वहीं कुछ लोग कोविड 19 होने के बाद घर पर ही रहकर खुद को आइसोलेट कर ट्रीटमेंट ले रहे हैं। डॉक्टर्स का भी कहना है कि अस्पताल में सिर्फ 60 साल से ज्यादा उम्र वाले लोग जो अन्य बीमारियों से पीड़ित हैं और इनके लक्षण भी उनमें दिखाई दे रहे हैं। उन्हें ही अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा।

इसके अलावा जो भी गर्भवती महिलाएं है या फिर जिन्हें लगातार खांसी हो रही है, सांस फूलने की समस्या जिन्हें हो रही है, 101 डिग्री से ज्यादा बुखार, 94 फीसद से कम ऑक्सीजन का स्तर और पल्स 120 से ज्यादा होने पर ही उन्हें मध्यम श्रेणी के अस्पतालों में भर्ती कराया जाएगा। इससे ज्यादा तकलीफ होने पर उन्हें मेडिकल कॉलेज रेफर किया जाएगा। इस बारे में स्वास्थ्य आयुक्त द्वारा कोरोना मरीजों के उपचार को लेकर मंगलवार को गाइडलाइन जारी की गई है।

ये लोग होम आइसोलेशन में रह सकेंगे

– बिना लक्षण और मामूली लक्षण वाले मरीज।
– 60 साल से कम के लोग।
– 60 साले ज्यादा के ऐसे लोग जिन्हें दूसरी बीमारियां नहीं हैं।
– डायबिटीज, रक्तचाप, फेफड़े की बीमारी, किडनी रोग से पीड़ित मरीजों को भी डॉक्टर की सलाह पर होम आइसोलेशन में रखा जा सकेगा।

इन लोगों को मेडिकल कॉलेज में रखा जाएगा

– जिनका ऑक्सीजन का स्तर 90 फीसद से कम है।
– ब्लड प्रेशर 90/50 से कम हो।
– सी रिएक्टिव प्रोटीन का स्तर बढ़ रहा हो।
– एक्सरे में फेफड़ा 35 फीसदी से ज्यादा प्रभावित दिख रहा हो।

पल्स ऑक्सीमीटर से लेकर जरूरी दवाएं खुद खरीदनी होंगी

1. मरीजों को डिजिटल थर्मामीटर, पल्स ऑक्सीमीटर, मास्क 20 पीस घर में खरीदकर रखना होगा।
2. इसके अलावा बुखार, एसिडिटी की दवाएं, जिंक, मल्टी विटामिन और विटामिन सी की दवाएं भी रखनी होगी।
3. इसके साथ ही चिकित्सक की सलाह पर होम आइसोलेशन वाले मरीज की किडनी फंक्शन, लिवर फंक्शन, ब्लड शुगर, ईसीजी, एक्सरे आदि की जांचें कराई जाएंगी।

10 दिनों में खत्म होगा होम आइसोलेशन

दिशा निर्देश में कहा गया है कि 10 दिन तक बिना लक्षण के रहने या लक्षण होने के बाद भी तीन दिन से बुखार नहीं आया हो तो 10 दिन में होम आइसोलेशन खत्म कर दिया जाएगा। हालांकि, इसके बाद भी सात दिन तक घर में ही अलग रहना होगा। हालांकि, पहले से भी यही गाइडलाइन है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password