Nemawar Murder Case Update: आरोपियों की फास्ट ट्रेक कोर्ट में होगी सुनवाई, CBI जांच कराने की मांग

Nemawar Murder Case Update

 देवास। नेमावर हत्याकांड Nemawar Hatyakand Dewas के मुख्य आरोपियों Nemawar Murder Case Update की संपत्ति पर जिला प्रशासन द्वारा बुलडोजर चलाकर उसे जमींदोज कर दिया। देवास जिला प्रशासन ने यह कार्रवाई की। इस कार्रवाई में हत्याकांड nemawar  के आरोपियों सुरेन्द्र सिंह चौहान और विवेक तिवारी के ठिकानों एवं प्रतिष्ठानों पर बुलडोजर चलाकर उन्हें गिरा दिया गया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घटना को वीभत्स बताते हुए अपराधियों के विरूद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए थे।

फास्ट ट्रेक कोर्ट में सुनवाई की जाएगी
कलेक्टर चंद्रमौलि शुक्ला ने कहा कि शासन द्वारा पीड़ित परिवारों को 41 लाख 25 हजार की सहायता राशि स्वीकृत की गई है। पीड़ित परिवारों के लिए स्वीकृत राशि उनके खातों में सीधे अंतरित की जाएगी। अपराधियों के विरूद्ध फास्ट ट्रेक कोर्ट में सुनवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें- एक फोन कॉल से खुला 10 फिट गहरे गड्ढे में दफन 5 लाशों का राज, जानें क्या है पूरी कहानी…

मकान को भी तोड़ दिया गया
घटना के मुख्य आरोपी सुरेन्द्र सिंह चौहान पिता लक्ष्मण सिंह चौहान वार्ड नंबर 10 रेत नाका नेमावर की 4 हजार 500 स्क्वायर फीट क्षेत्र में फैली 3 दुकान और दुकान के पीछे बने मकान को तोड़ा गया है। इसी के साथ अन्य आरोपी विवेक तिवारी पिता कमल किशोर लक्ष्मीनारायण तिवारी के वार्ड नंबर 14 में 2 हजार स्क्वेयर फीट में बने मकान को भी तोड़ दिया गया है।

निर्माण को चिन्हित किया जा रहा
कलेक्टर शुक्ला ने बताया कि प्रकरण में अपराधियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है। अपराधियों की और भी दूसरी अवैध संपत्ति और अवैध निर्माण को चिन्हित किया जा रहा है।

 

तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा

देवास जिले के नेमावर में आदिवासी परिवार हत्याकांड के विरोध में आक्रोश रैली निकाली गई. जयस संगठन के नेतृत्व में रैली निकाली गई, जिसमें लोगों ने मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा  और मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की साथ ही विशेष दल गठित किया जाए] जिसमें आदिवासी समाज का एक वरिष्ठ व्यक्ति भी शामिल हो.

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password