Nagriya Nikay Chunav 2021 : 1.5 लाख फर्जी मतदाताओं का मामला,जांच के चुनाव आयोग ने एक ऑब्जर्वर को भेजा

Nagriya Nikay Chunav 2021 : 1.5 लाख फर्जी मतदाताओं का मामला,जांच के चुनाव आयोग ने एक ऑब्जर्वर को भेजा

Case of 1.5 lakh fake voters

इंदौर। नगरीय निकाय चुनाव के ठीक पहले मतदाता सूची में डेढ़ लाख मतदाताओं Nagriya Nikay Chunav 2021 के फर्जी होने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। चुनाव आयोग ने एक ऑब्जर्वर को इस पूरे मामले की जांच के लिए इंदौर भेजा है। पिछले दिनों पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा की अगुवाई में कांग्रेस प्रतिनिधि मंडल ने चुनाव आयोग से मिलकर ये मुद्दा उठाया था। इन फर्जी नामों को हटाने और भौतिक सत्यापन की मांग की थी।

मतदाता सूची में गड़बड़ी ठीक नहीं होती है तो वो हाईकोर्ट जाएंगे

सोमवार को कांग्रेस जिला अध्यक्ष विनय बाकलीवाल ने आज प्रतिनिधिमंडल के साथ ऑब्जर्वर से भी मुलाकात की। उन्हें फर्जी मतदाताओं के बारे में जानकारी दी। विनय बाकलीवाल के मुताबिक ऑब्जर्वर ने तीन दिन में इस पूरे मामले के निराकरण की बात कही है। वहीं विनय बाकलीवाल का कहना है कि अगर मतदाता सूची में गड़बड़ी ठीक नहीं होती है तो वो हाईकोर्ट जाएंगे।

कार्रवाई करने की भी मांग की गई

गौरतलब है कि नगरीय निकाय चुनाव Nagriya Nikay Chunav 2021 से पहले तीन दिन पहले कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने राज्य निर्वाचन आयोग से मुलाकात की थी और इंदौर में फर्जी मतदाताओं को लेकर शिकायत की। इसके साथ ही मामले में संज्ञान लेकर कार्रवाई करने की भी मांग की गई है। कांग्रेस का आरोप है कि इंदौर में करीब 1.5 लाख फर्जी मतदाता हैं। जिसकी शिकायत की गई है।

 

CEO से मिला कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल
शुक्रवार को पूर्व मंत्री सज्जनसिंह वर्मा, निगम चुनाव के लिए कांग्रेस प्रभारी बनाई गई विजयालक्ष्मी साधौ और विधायक विशाल पटेल ने कांग्रेस के लीगल सेल प्रभारी जेपी धनोपिया के साथ चुनाव आयोग में शिकायत की। कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि भाजपा के दबाव में जिला कलेक्टर फर्जी मतदाताओं को नहीं हटा रहे हैं।

निर्वाचन आयोग को शिकायत
सज्जनसिंह वर्मा ने कहा कि इंदौर की मतदाता सूची की गड़बड़ी को लेकर निर्वाचन आयोग को शिकायत की है। अनुमान है कि शहर की मतदाता सूची में लगभग 1.5 लाख फर्जी मतदाताओं के नाम दर्ज है। इससे पहले कांग्रेस इंदौर संभागायुक्त को शिकायत कर चुकी है। लेकिन नाम नहीं हटाए गए जबकि जिला कलेक्टर ने लिखित में यह स्वीकार किया था कि प्रारंभिक परीक्षण में 80 हजार मतदाता फर्जी मिले हैं।

 

 

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password