Muthoot Finance Loot Case : बिहार से चंडीगढ़ डाका डालने गए थे बदमाश,टाइमिंग में ​हुई चूक, भीड़ ने की धुनाई

Muthoot Finance Loot Case

चंडीगढ़। शातिर बदमाशों को एक वारदात को अंजाम देने के लिए 1600 किमी का सफर किया। इसके बाद  वारदात को अंजाम देने के लिए डेढ़ महीने से होमवर्क भी किए। इतना ही नहीं जिस फाइनांस दफ्तर में बदमाशों ने वारदात को अंजाम देने की प्लानिंग की थी उस दफ्तर का पिछले एक सप्ताह से रेकी भी किया। बैंक के अंदर बाहर की गतिविधियों को नोट करने के अलावा बदमाश ट्रायल के तौर पर डमी वारदात को अंजाम देकर अपनी योजना को पुख्ता भी कर चुके थे। मगर उनकी किस्मत खराब रही और मूथूट फाइनांस के कर्मचारी अपनी हाजिरी समय पर नहीं लगा पाए और फिर बदमाश अपने वारदात को कामयाब नहीं कर सके, जिस कारण उनका पूरा प्लान फेल हो गया।

1600 किलोमीटर का सफर बस में करके चंडीगढ़ आए
दरअसल बिहार के शातिर बदमाशों ने लुधियाना में वारदात करने की साजिश रची। साजिश रचने के बाद  छह बदमाश पटना से 1600 किलोमीटर का सफर बस में करके चंडीगढ़ आए। उस दौरान उन सबके पास अवैध असलहा था। रास्ते में पांच राज्यों में से किसी भी पुलिस ने उन्हें चेक नहीं किया। चंडीगढ़ से ये लोग लुधियाना तक मोटरसाइकिलों पर आए।

ये है मामला
पंजाब के लुधियाना जिले में शुक्रवार सुबह मुथुट फाइनेंस (Muthoot Finance) के कार्यालय में लूट के इऱादे से पहुंचे बदमाशों ने कार्यालय के अंदर गोलियां चलाकर दहशत कायम कर दी, लेकिन जब लुटेरे आफिस के बाहर निकले तो भारी भीड़ देख होश फाख्ता हो गए। भीड़ ने बदमाशों को दबोच कर जमकर धुनाई की।  भीड़ के बीच पुलिस भी वहां पहुंच गई और पिट रहे बदमाशों को बमुश्किल भीड़ से बचाया।

गोली लगने से एक घायल
पुलिस के मुताबिक, हथियारबंद बदमाश लूट के बाद मोटरसाइकिल से भाग रहे थे, लेकिन भीड़ देख उनकी हालत पतली हो गई औऱ दो बदमाश बाइक से गिर पड़े। बदमाशों को दबोच ने के लिए मौका तलाश रही भीड़ ने उन्हें तुरंत काबू में कर लिया और पीटना शुरू कर दिया। बदमाशों ने पुलिस पर भी फायरिंग की, लेकिन उन्हें गिरफ्तार कर हथियार ले लिए गए। गोली लगने से एक व्यक्ति घायल हो गया।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password