MPPSC News: MPPSC ने बदला स्टैंड

MPPSC News: MPPSC ने बदला स्टैंड, SSE-2023 में मेन्स की तैयारी के लिए सिर्फ 53 दिन

MPPSC-News
Share This

   हाइलाइट्स

  • MPPSC ने बदला स्टैंड।
  • SSE-2023 में मेन्स की तैयारी के लिए दिए सिर्फ 53 दिन।
  • 3 महीनों में 7 परीक्षाओं के होने हैं इंटरव्यू।

 

MPPSC News: MPPSC ने अपना स्टैंड बदल लिया है। SSE-2023 में मेन्स की तैयारी के लिए सिर्फ 53 दिन दिए गए हैं। जिसके कारण एग्जाम एसएसई-2023 की मेन्स एग्जाम में शामिल होने वाले उम्मीदवार परेशान हैं। 3 महीनों में 7 परीक्षाओं के इंटरव्यू होने हैं।

आपको बता दें, कि एक साल पहले MPPSC के OSD डॉ. आर. पंचभाई ने विभिन्न परीक्षाओं के समय एक बयान जारी किया था, जिसमें कहा गया था कि, मुख्य परीक्षा का आयोजन तब हो पाएगा जब प्री का रिजल्ट घोषित होगा। क्योंकि ये सभी सिक्वेंस एग्जाम्स हैं। इसलिए आगे की परीक्षा के आयोजन के बारे में भले हम कैलेंडर में लिख भी दें, लेकिन वो तो प्री के रिजल्ट पर डिपेंड है। इसके लिए हमें अभ्यर्थी को 3 महीने का समय तैयारी के लिए देना होता है। लेकिन अब MPPSC ने अपना स्टैंड बदल लिया है। जिससे उम्मीदवारों के  लिए परेशानी का कारण बन गई है।

   ये इंटरव्यू और एसएसई-2024 हैं प्रस्तावित

एसएसई देने वाले उम्मीदवार अपनी योग्यता अनुसार विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाएं देते हैं। MPPSC का ही कैलेंडर देखें तो फरवरी, मार्च, अप्रेल में 7 परीक्षाओं के इंटरव्यू प्रस्तावित हैं।

फरवरी में राज्य अभियांत्रिकी सेवा परीक्षा-2021(विद्युत), सहायक जिला लोक अभियोजक 2021 प्रस्तावित है।

मार्च में राज्य अभियांत्रिकी सेवा परीक्षा-2022, राज्यवन सेवा परीक्षा-2021, राज्य सेवा परीक्षा-2021

अप्रेल में राज्य वन सेवा परीक्षा-2022, पशु चिकित्सा सहायक शल्यज्ञ परीक्षा- 2023 के इंटरव्यू भी प्रस्तावित हैं।

वहीं 28 अप्रेल को राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा-2024 प्रस्तावित है।

 संबंधित खबर:MPPSC Exam: परीक्षा लेने की जल्दी में MPPSC, 20 घंटे से अभ्यर्थियों का प्रदर्शन जारी

   ओएसडी बोले- कंप्रोमाइज करना पड़ेगा

एसएसई प्री एग्जाम-2023 का रिजल्ट 18 जनवरी को आया। मेन्स एग्जाम 11 से 16 मार्च तक होने हैं। इस हिसाब से 53 दिन ही दिए जा रहे हैं। जबकि पीएससी (MPPSC News) के बयान के हिसाब से 90 दिन मिलने चाहिए। अपने पुराने स्टैंड को लेकर MPPSC के ओएसडी डॉ. पंचभाई का कहना है, कि यदि कैलेंडर को पटरी पर लाना है, तो उम्मीदवारों को कुच कंप्रोमाइज तो करना ही पड़ेगा। अभी देर होगी तो 2024, 2025 कैलेंडर में इसका असर पड़ेगा।

   फिर से आंदोलन की तैयारी

2 दिन पहले इसको लेकर इंदौर मुख्यालय में छात्रों ने आंदोलन किया था। हालांकि 48 घंटे बाद इस आंदोलन को वापस ले लिया। लेकिन इस पर उन्होंने जल्द ही इस पर निर्णय लेने को कहा है। निर्णय नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी जारी की। हालांकि इस विषय पर निर्णय नहीं लेने पर उम्मीदवारों ने फिर से आंदोलन की तैयारी शुरू कर दी है।

 संबंधित खबर:MPPSC News: इंदौर PSC ऑफिस का घेराव, देर रात तक प्रदर्शन जारी, मेंस परीक्षा को आगे बढ़ाने की मांग

   हमारा करियर शुरू नहीं हुआ- उम्मीदवार

उम्मीदवारों का कहना है, कि हमारा अभी करियर ही शुरू नहीं हुआ। MPPSC यदि अपने स्टैंड क्लियर रखे तो कभी किसी को प्रॉब्लम नहीं होगी। हम अपने समय को इस तरह बर्बाद नहीं करना चाहते। MPPSC से ज्यादा लोड उम्मीदवारों पर है। MPPSC अधिकारी अपने रिटायरमेंट का समय गिन रहे होंगे, लेकिन हमारा तो अभी करियर ही शुरू नहीं हुआ। सोच समझ कर निर्णय लेने चाहिए।

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password