26 नवंबर से बदलेगा प्रदेश का मौसम, ​इन 18 जिलों में गिरेगा पहला मावठा  

MP Weather Update: 26 नवंबर से बदलेगा प्रदेश का मौसम, ​इन 18 जिलों में गिरेगा पहला मावठा

mp-weather-update
Share This

MP Weather Update: एमपी में मौसम का मिजाज फिर बदलने वाला है। सुबह शाम की बढ़ती ठंड लोगों को बीमार करने लगी है। इसी बीच मौसम विभाग ने 26 नवंबर से प्रदेश में हल्की बारिश का अनुमान जताया है। 18 जिलों में पहला मावठा गिरने के भी आसार हैं। आइए जानते हैं प्रदेश का मौसम अगले दिनों में कैसा रहने वाला है।

अगले 24 घंटों में इन हिस्सों में होगी बारिश

आईएमडी (IMD) भोपाल द्वारा जारी वेदर रिपोर्ट के अनुसार एमपी के दिन के तापामन में गिरावट देखने को मिलेगी। तो वहीं प्रदेश के दक्षिण-पश्चिम हिस्से में हल्की बूंदाबांदी के साथ मावठा गिरने की संभावना जताई है। यहां पर 25 नवंबर यानि शनिवार से बारिश का दौर दो दिन के लिए जारी रह सकता है। तो वहीं तेज हवाओं के साथ ओले गिरने का भी पूर्वानुमान मौसम विभाग ने जारी किया है।

26 नवंबर को यहां बारिश का अनुमान

मौसम विभाग द्वारा जो पूर्वानुमान लगाया गया है उसके अनुसार इंदौर और उज्जैन सहित 18 जिलों में पहला मावठा गिर सकता है। जिसमें झाबुआ, इंदौर, धार, अलीराजपुर, बड़वानी और धार शामिल है। यहां के लिए आईएमडी ने ऑरेंज अलर्ट के साथ चेतावनी जारी की है। तो वहीं इसके चलते अगले पांच दिनों तक ठंड अपना असर दिखा सकती है।

mp-weather-update

कहां कब हो सकती है बारिश

आईएमडी भोपाल द्वारा जो रिपोर्ट जारी की गई है उसके अनुसार शनिवार को इंदौर, रतलाम, झाबुआ, अलीराजपुर, बड़वानी, धार, खरगोन और बुरहानपुर में बादलों का डेरा रह सकता है। इतना ही नहीं यहां पर बिजली और बारिश के भी आसार अगले दो दिन तक रह सकते हैं।

 

वेस्टर्न डिस्टरबेंस होगा एक्टिव

मौसम विज्ञानियों की मानें तो ईरान अफगानिस्तान के आसपास वेस्टर्न डिस्टरबेंस एक्टिव होने से थोड़े समय के लिए चक्रवाती घेरा बना है। इतना ही नहीं अन्य सिस्टम भी एक्टिव हो रहा है। जो मध्यप्रदेश में अपना असर दिखाएगा। यही कारण है कि यहां पर बारिश, ओलावृष्टि और तेज हवाओं का दौर चलेगा।

क्या होता है मावठा

बारिश के बाद ठंड की शुरूआत में मौसम बदलने के बाद कुछ हल्की बूंदाबदीं होती है। जिसे मावट या मावठा बोला जाता है। हालांकि मावठ एक राजस्थानी शब्द है। जिसका अर्थ “माघ वृष्टि” होता है। मावठा की बारिश गेहूं आदि फसलों के लिए बेहद लाभकारी मानी जाती है। ये मुख्य रूप से यह दक्षिण पश्चिमी भाग से आती है।

MP Weather Update, today mp weather, mp weather forcast, November 25-26 nov mp weather,bansal news

 

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password