MP Upchunav 2021: मैदान में चुनौती देने को तैयार कांग्रेस, चुनावों के लिए नियुक्त किए प्रभारी

भोपाल। प्रदेश की तीन विधानसभा और 1 लोकसभा सीट पर उपचुनाव (MP Upchunav) होना है। इसको लेकर भाजपा और कांग्रेस अपनी तैयारियों में जुटे हैं। हालांकि अभी चुनाव आयोग ने उपचुनावों की तारीखों का ऐलान नहीं किया है। इसके बावजूद कांग्रेस उपचुनावों को लेकर मैदान में उतर आई है। कांग्रेस ने जिन सीटों पर उपचुनाव होना है उन सीटों पर प्रभारी नियुक्त कर दिए हैं। इन तीनों सीटों में से दो पर पहले से ही कांग्रेस का कब्जा था। कांग्रेस के कब्जे वाली सीट जोबट की जिम्मेदारी पीसीसी चीफ कमलनाथ ने रवि जोशी को सौंपी है।

पृथ्वीपुर सीट को जीतने के लिए कांग्रेस ने विधायक प्रवीण पाठक और मनोज चावला पर भरोसा जताया है। इन दोनों को इस सीट का प्रभारी बनाया गया है। यह सीट पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक बृजेंद्र सिंह राठौर के निधन के बाद खाली हुई थी। बीजेपी के कब्जे वाली रेगांव के लिए लखन घनघोरिया को प्रभारी नियुक्त किया गया है। वहीं लोकसभा सीट खंडवा के उपचुनाव के लिए प्रभारी नियुक्त नहीं किया गया है। जल्द ही पार्टी इस सीट को लेकर भी फैसला करने वाली है। बता दें कि प्रदेश कांग्रेस में अब युवाओं को जिम्मदारी सौंपी जा रही है। अब कांग्रेस युवाओं को पार्टी में आगे लाना चाहती है। इसको लेकर पीसीसी चीफ कमलनाथ पहले भी संकेत दे चुके हैं।

इन सीटों पर होना है उपचुनाव…
दरअसल प्रदेश की 1 लोकसभा और 3 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होना है। इनमें से लोकसभा सीट भाजपा के दिग्गज नेता और खंडवा लोकसभा सीट से सांसद नंदकुमार चौहान के निधन से खाली हुई थी। वहीं निवाड़ी पृथ्वीपुर से कांग्रेस विधायक बृजेंद्र प्रताप सिंह, जोबट से कांग्रेस विधायक कलावती भूरिया और रैगांव से भाजपा विधायक जुगल किशोर बागरी के निधन के बाद ये सीटें खाली हुईं हैं। अब दमोह उपचुनाव के बाद इन सीटों पर भी उपचुनाव की सुगबुगाहट तेज हो गई है।

भाजपा-कांग्रेस ने शुरू की तैयारी…
इन चुनावों की चुनाव आयोग ने तैयारी शुरू कर दी है। चुनाव आयोग (MP Election Commision) के आदेश के बाद एक बार फिर भाजपा-कांग्रेस आमने सामने होंगे। दमोह उपचुनाव (Damoh By-election) जीतने के बाद जहां कांग्रेस जोश से भरी है वहीं भाजपा भी इन चुनावों में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है। भाजपा ने उपचुनाव की मैदानी तैयारी शुरू कर दी है। सीएम शिवराज सिंह चौहान खंडवा में आने वाले बुरहानपुर का दौरा कर चुके हैं। वहीं 31 जुलाई को निवाड़ी का दौरा फिक्स हो गया है।

मंत्री गोपाल भार्गव को निवाड़ी का प्रभारी मंत्री बनाया गया है। भाजपा ने अपने मंत्रियों को भी जिम्मेदारी सौंपकर मैदान में उतार दिया है। वहीं कांग्रेस प्रदेशअध्यक्ष कमलनाथ (PCC Chief Kamalnath) भी लंबे समय से दिल्ली में थे। अब सोमवार को कमलनाथ वापस भोपाल लौट रहे हैं। उपचुनाव की तैयारियों को लेकर कमलनाथ लगातार गुरुवार तक बैठकें करने वाले हैं। माना जा रहा है कि चार दिनों की इन बैठकों में उपचुनावों (Mp Upchunav) की तैयारी की जाएगी। जानकारी के मुताबिक जिस रणनीति के तहत कांग्रेस ने दमोह उपचुनाव जीता है उसी पर आगे काम किया जाना है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password