निकाय चुनाव से पहले प्रशासनिक सर्जरी के संकेत, बदले जा सकते हैं ग्वालियर, होशंगाबाद, समेत 8 जिलों के कलेक्टर

cm shivraj

MP Local Body Election: मध्य प्रदेश में जल्द ही नगरीय निकाय चुनाव होने वाले हैं। लेकिन निकाय चुनाव के पहले एक बार फिर से प्रशासनिक सर्जरी के संकेत मिल रहे हैं। खबरों के मुताबिक, सरकार जिलों में पदस्थ कई अपसरों के तबादले करने की तैयारी का मूड बना रही है। वहीं सीएम शिवराज तक जिलों का फीडबैक भी पहुंच गया है। इस स्थिति में अनुमान लगाया जा रहा है कि 8 जिलों के कलेक्टरों के तबादले हो सकते हैं। इसके साथ ही जिन जिलों में भाजपा को उपचुनाव में हार का सामना करना पड़ा था वहां के अफसरों को भी हटाया जा सकता है।

इन जिलों के कलेक्टरों का हो सकता है तबादला

माना जा रहा है कि 8 जिले बालाघाट, ग्वालियर, सीधी, शहडोल, छतरपुर, सीहोर, रायसेन और होशंगाबाद के कलेक्टर बदले जा सकते हैं। जनवरी में निकाय चुनाव कराने के लिए 15 दिसंबर के बाद कभी भी आचार संहिता लागू हो सकती है, लेकिन इससे पहले मंत्रालय से ट्रांसफर की बड़ी सूची जारी हो सकती है। गौरतलब है कि नगरीय निकायों के लिए महापौर और अध्यक्ष पद के लिए आरक्षण की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।

CM दे चुके हैं संकेत, कान्फ्रेंस खत्म होने के बाद एक्शन

सीएम शिवराज ने बुधवार को कलेक्टर-कमिश्नर कांफ्रेंस के दौरान बड़े प्रशासनिक सर्जरी के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा है कि मैदानी पोस्टिंग मेरिट के आधार पर होगी। इस दौरान कई जिलों के कलेक्टरों की कार्यप्रणाली को लेकर मुख्यमंत्री ने नाराजगी भी जताई थी। कान्फ्रेंस करीब 8 घंटे चली थी। मुख्यमंत्री ने कान्फ्रेंस खत्म होने के तत्काल बाद कटनी कलेक्टर शशिभूषण सिंह और नीमच एसपी मनोज कुमार राय को तत्काल हटाने के निर्देश दिए थे। दोनों अफसरों का तबादला आदेश देर रात जारी भी हो गया था।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password