MP HEAVY RAIN ALERT: मौसम विभाग ने जारी की 30 से अधिक जिलों में भारी बारिश की चेतावनी,दिए कई बचाव के निर्देश

MP HEAVY RAIN ALERT: मौसम विभाग ने जारी की 30 से अधिक जिलों में भारी बारिश की चेतावनी,दिए कई बचाव के निर्देश

MP HEAVY RAIN ALERT

BHOPAL:मानसून आगमन के साथ ही पहली बार मौसम विभाग ने भारी बारिश की चेतावनी MP HEAVY RAIN ALERT जारी की है।साथ ही बचाव के कई निर्देश जारी किए गए हैं।बता दें इस समय प्रदेश के अलग-अलग स्थानों पर 5 वेदर सिस्टम एक्टिव हैं। इसके साथ ही सोमवार को ओडिशा तट पर एक कम दबाव का क्षेत्र विकसित होने की संभावना है।इस कम दबाव के कारण मानसून इसकी जगह भरने के लिए आ जाएगा। जिसके बाद 5 जुलाई से प्रदेशभर में बेतहासा बारिश के आसार है। एमपी मौसम विभाग (MP Weather Department) ने आज रविवार 3 जुलाई 2022 को 30 जिलों में भारी से अति भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। वही सभी 6 संभागों और 3 जिलों में बिजली गिरने और चमकने को लेकर भी चेतावनी जारी की गई है।

जारी किए निर्देश

मौसम विभाग की ने इस भारी बारिश में बचाव के कई निर्देश भी बताए हैं।विभाग के अनुसार

-इलेक्ट्रॉनिक और बिजली के उपकरणों का उपयोग करने से बचें और उनको अनप्लग करें

-दोपहिया वाहनों के उपयोग से बचें और पेड़ों के नीचे वाले भारी वर्षा के दौरान इस्तेमाल करें

-बारिश में छाता और रैनकोट का इस्तेमाल करें

ये रहा मौसम विभाग का पूर्वानुमान MP HEAVY RAIN ALERT

जारी हुआ यलो एलर्ट-

एमपी मौसम विभाग (MP Weather alert ) के अनुसार, आज रविवार 3 जुलाई 2022 को भोपाल संभाग के साथ अनूपपुर, उमरिया, शहडोल, जबलपुर, सिवनी, छिंदवाड़ा, बालाघाट, मंडला,कटनी, बैतूल, नर्मदापुर, सागर, दमोह, खंडवा, खरगोन, शाजापुर, आगर, इंदौर, धार, उज्जैन, रतलाम, देवास, अलीराजपुर,गुना और मंदसौर में भारी बारिश को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है। वही भोपाल, नर्मदापुरम, इंदौर, उज्जैन, जबलपुर और शहडोल संभाग के साथ दमोह, सागर और गुना में गरज चमक के साथ बिजली गिरने और चमकने का अलर्ट जारी किया गया है।MP HEAVY RAIN ALERT

बन गया है कम दबाव

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Update ) के अनुसार, मानसून पूरे देश में सक्रिय हो चुका है, लेकिन बंगाल की खाड़ी में प्रभावी सिस्टम बनने के बाद ही झमाझम बारिश का दौर शुरू हो जाएगा। 4 जुलाई को बंगाल की खाड़ी में कम दवाब के जोन का निर्माण हो रहा है। इसके बाद 5 जुलाई से फिर मानसूनी बारिश में जबरदस्त इजाफा होगा और प्रदेश के साथ ही ग्वालियर-चंबल संभाग में अच्छी बारिश के आसार बनेंगे। इंदौर में जुलाई और अगस्त माह में वर्षा का स्तर सामान्य के आसपास रहेगा। वही पूर्वी मप्र में वर्षा की गतिविधि ज्यादा होगी। कई वेदर सिस्टम एक्टिव होने के कारण प्रदेश में कहीं कहीं गरज चमक के साथ वर्षा हो रही है।

5 वेदर सिस्टम का लॉजिक

एमपी मौसम विभाग (MP Weather Forecast ) के अनुसार, वर्तमान में 5 वेदर सिस्टम एक्टिव है। वर्तमान में राजस्थान के ऊपर हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात मौजूद है और इस चक्रवात से लेकर पश्चिम-मध्य अरब सागर तक ट्रफ लाइन बनी हुई है। वही मानसून ट्रफ बीकानेर-अलवर से लेकर हरदोई, डाल्टनगंज और शांति निकेतन से होते हुए पूर्वोत्तर बंगाल की खाड़ी तक विस्तृत है, जबकि दक्षिणी गुजरात से उत्तरी महाराष्ट्र तट के समानांतर एक अपतटीय ट्रफ बना हुआ है। वही बांग्लादेश पर भी हवा के ऊपरी भाग में एक चक्रवात बना हुआ है जिसके प्रभाव में सोमवार को ओडिशा तट पर एक कम दबाव का क्षेत्र विकसित होने की संभावना है।

पिछले 24 घंटे का बारिश का रिकॉर्ड

पिछले 24 घंटों के दौरान सिवनी में 94.2, सागर में 36, मंडला में 28, जबलपुर में 27.9, धार में 25.1, उज्जैन में 20, भोपाल शहर में 13.6, दतिया में 11.4, सीधी 9.6, खजुराहो में 8.4, सतना में 8.2, छिंदवाड़ा में 7.8, खरगोन में 6.8, रीवा में 5.6, रायसेन में 5.6, इंदौर में 3.6, नरसिंहपुर में तीन, उमरिया में 2.8, दमोह में दो, गुना में 1.9, मलाजखंड में 0.6 एवं ग्वालियर में 0.4 मिलीमीटर वर्षा हुई।

 

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password