MP CM News : गाँव से शहर तक, अस्पतालों में होगी पूरी जांच, जल्द शुरू होगा कोरोना का अभियान : CM शिवराज सिंह चौहान

भोपाल। मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री MP CM News शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रालय में भोपाल के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक में कोरोना संक्रमण की आहट को सुनकर आवश्यक सावधानियां बरतने के निर्देश दिए हैं। भोपाल शहर के अलग-अलग मोहल्लों में एक दर्जन से अधिक कोरोना संक्रमण के मामले सामने आने से चिंतित मुख्यमंत्री चौहान ने अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि कार्य-योजना तैयार कर प्रशासन अलर्ट मोड पर रहे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुधवार को यहां वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम ने क्राइसिस मैनेजमेंट समितियों को आदेश दिए है और कहा है कि ये एक बड़ा संकट है जो वापस आया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कार्य-योजना तैयार कर प्रशासन अलर्ट मोड पर रहे। क्राइसिस मैनेजमेंट समितियां गाँव से शहर तक सभी अस्पतालों में जांच करेगी। इसी के साथ क्राइसिस मैनेजमेंट टीम को पूरी तरह से काम करना है। जो संकट हमने पिछली बार झेला था वो संकट हमको वापस से नहीं झेलना है। हमने अगर पूरी सावधानी बरती तो हम फिर से प्रदेश में लॉकडाउन आने की परिस्थिति को भी रोक सकेंगे।

नए वेरिएंट के प्रति चिंतित,सावधान रहें
कमेटी हर एक अस्पताल में निरिक्षण कर व्यवस्थाएं सुनिश्चित करेंगी। इसी के साथ ऑक्सीजन प्लांट कार्यशील रहें। पंचायतों की कमेटियां भी सक्रिय रहें, मॉक ड्रिल करें। सभी जिलों में हर एक गाँव और शहर में कमेटियों को सक्रिय किया जायेगा। मॉक ड्रिल की जाएगी।

देश में नए मामले
देश में बीते 24 घंटे में 8,954 नए कोरोना केस मिले हैं और 267 लोगों की मौत हुई है। इस दौरान 10,207 लोग रिकवर भी हुए हैं। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक फिलहाल 99,023 एक्टिव केस हैं। देश भर में वैक्सीनेशन कैंपन जोरशोर से चलाया जा रहा है। अब तक 1.24 अरब लोगों को टीका लग चुका है।

इंटरनेशनल यात्रियों के लिए नई गाइडलाइंस लागू
इंटरनेशनल यात्रियों के लिए नई गाइडलाइंस लागू साउथ अफ्रीका में मिले कोरोना वायरस के ‘वैरिएंट ऑफ कंसर्न’ ओमिक्रॉन से बचाव को लेकर केंद्र सरकार की तरफ से जारी नई गाइडलाइंस आज से लागू हो गई हैं। उधर, महाराष्ट्र, कर्नाटक, गोवा आदि राज्यों ने अपने स्तर से भी कई सख्त आदेश जारी कर दिए हैं।

अब देश में आने पर हर इंटरनेशनल ट्रैवलर को होना पड़ेगा क्वारैंटाइन
केंद्र सरकार ने ओमिक्रॉन को लेकर तय की गई नई गाइडलाइंस 1 दिसंबर की आधी रात से लागू करने की घोषणा की थी। मंगलवार और बुधवार के बीच की आधी रात से ये गाइडलाइंस लागू हो गईं। इनके मुताबिक, अब ‘एट रिस्क कंट्रीज’ में शामिल 12 देशों से आने वाले हर व्यक्ति का एयरपोर्ट पर ही RT-PCR टेस्ट होगा। इन यात्रियों को एयरपोर्ट पर ही टेस्ट रिजल्ट आने तक इंतजार करना होगा। यदि टेस्ट निगेटिव आता है तो उन्हें 7 दिन के होम क्वारैंटाइन पर रहने की इजाजत दी जाएगी। 8वें दिन उनका दोबारा RT-PCR टेस्ट होगा, जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही उन्हें बाहर घूमने की छूट मिलेगी।

 

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password