MP Cheetah Live Update: 70 साल बाद कूनो की धरती पर चीतों के कदम, पीएम मोदी का बड़ा संबोधन, जानें पल-पल की अपडेट

MP Cheetah Live Update: 70 साल बाद कूनो की धरती पर चीतों के कदम, पीएम मोदी का बड़ा संबोधन, जानें पल-पल की अपडेट

ग्वालियर। MP Cheetah News जैसा कि, आप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर देश को बड़ी सौगात मिली है वहीं पर कूनो नेशनल पार्क की धरती पर अब नामीबिया से आए अफ्रीकन चीते राज करने वाले है। प्रधानमंत्री के लिए 10 फीट ऊंचा प्लेटफॉर्मनुमा मंच बनाया गया था। इसी मंच के नीचे पिंजरे में चीते थे। PM ने लीवर के जरिए बॉक्स को खोला। चीते बाहर आते ही अनजान जंगल में थोड़ा सा सहमे भी। इधर-उधर नजरें घुमाईं और चहलकदमी करने लगे।

पीएम मोदी का संबोधन

आपको बताते चलें कि, कूनो नेशनल पार्क में चीतों को छोड़ने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी का संबोधन सामने आया है जिसमें कहा कि, कूनो नेशनल पार्क में इन चीतों को देखने के लिए लोगों को धैर्य दिखाना होगा और कुछ महीनों तक इंतजार करना होगा। आज ये चीते मेहमान बनकर आए हैं। कुनो राष्ट्रीय उद्यान को अपना घर बनाने में सक्षम होने के लिए हमें इन चीतों को कुछ महीने का समय देना होगा। कुनो नेशनल पार्क में जब चीता फिर से दौड़ेंगे, तो यहाँ का ग्रासलैंड इकोसिस्टम फिर से बहाल होगा, जैव विविधता और बढ़ेगी। आने वाले दिनों में यहां पर्यावरण पर्यटन भी बढ़ेगा। यहां विकास की नई संभावनाएं जन्म लेंगी। मैं हमारे मित्र देश नामीबिया और वहाँ की सरकार का भी धन्यवाद करता हूँ जिनके सहयोग से दशकों बाद चीते भारत की धरती पर वापस लौटे हैं। मुझे विश्वास है कि ये चीतें ना केवल प्रकृति के प्रति हमारी जिम्मेदारियों का बोध कराएंगे बल्कि हमारे मानवीय मूल्यों और परंपराओं से भी अवगत कराएंगे।

क्वारंटीन में रहेगें चीते

मध्यप्रदेश के ग्वालियर में आज पीएम नरेंद्र मोदी पहुंच गए है जहां से वे थोड़ी देर में श्योपुर कूनो नेशनल पार्क के लिए रवाना होगे।प्रधानमंत्री तीन बॉक्स खोलकर चीतों को कूनो में क्वारंटीन बाड़े में छोड़ेंगे। एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने PM को रिसीव किया। इससे पहले चिनूक हेलिकॉप्टर के जरिए 8 चीतों को पार्क के लिए रवाना किया गया है। आपको बताते चलें कि, यहां से चिनूक हेलिकॉप्टर के जरिए इन्हें कूनो नेशनल पार्क लाया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी ग्वालियर से कूनो पहुंच रहे हैं। प्रधानमंत्री बॉक्स खोलकर तीन चीतों को कूनो में क्वारंटीन बाड़े में छोड़ेंगे।

नामीबिया से आया चीता परिवार

 मध्यप्रदेश के नामीबिया से आठ चीते शनिवार को यहां पहुंचे। भारत में इस जीव के विलुप्त होने के सात दशकों बाद चीते लाए गए हैं। बोइंग के एक विशेष विमान ने शुक्रवार रात को अफ्रीकी देश से उड़ान भरी थी और वह लकड़ी के बने विशेष पिंजरों में चीतों को लेकर करीब 10 घंटे की यात्रा के बाद भारत पहुंचा। चीतों को लाने के लिए विमान में विशेष इंतजाम किए गए थे। मध्य प्रदेश: भारतीय वायु सेना के हेलिकॉप्टर द्वारा 8 चीतों को श्योपुर ले जाया गया। बताते चलें कि, चीतो में दो नर चीतों की उम्र साढ़े पांच साल है। दोनों भाई हैं। पांच मादा चीतों में एक दो साल, एक ढाई साल, एक तीन से चार साल तो दो पांच-पांच साल की हैं।

 

 

अधिकारी ने दी जानकारी

एक अधिकारी ने बताया कि विमान सुबह आठ बजे से कुछ देर पहले ही ग्वालियर हवाई अड्डे पर उतरा। इन चीतों को मध्य प्रदेश के कुनो राष्ट्रीय उद्यान ले जाया जाएगा, जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने जन्मदिन के अवसर पर सुबह 10 बजकर 45 मिनट पर तीन चीतों को विशेष बाड़ों में छोड़ेंगे। एक अधिकारी ने बताया कि इन वन्यजीवों को ग्वालियर से वायु सेना के एक हेलीकॉप्टर के जरिए श्योपुर जिले के कुनो ले जाया जाएगा। इस 165 किलोमीटर की यात्रा में करीब 20-25 मिनट लगेंगे।

 

 

सीएम शिवराज सिंह ने कही बात
इस मौके पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान,ने कहा कि, चीता समाप्त हो गया था। चीता को पुनर्स्थापन करने का ऐतिहासकि काम हो रहा है। ये इस सदी की वन्य जीवन की सबसे बड़ी घटना है। इससे मध्य प्रदेश और विशेष तौर पर उस अंचल में पर्यटन बहुत तेजी से बढ़ेगा।

नामीबिया से आई स्वास्थ्य टीम

आपको बताते चलें कि,  इससे पहले ग्वालियर में चीतों का रुटीन चेकअप हुआ। चीतों के साथ नामीबिया के वेटरनरी डॉक्टर एना बस्टो भी आए हैं। चीतों को खास तरह के पिंजरों में लाया गया है। लकड़ी के बने इन पिंजरों में हवा के लिए कई गोलाकार छेद किए गए हैं। पिंजरों को ट्रॉली के जरिए चिनूक हेलिकॉप्टर में शिफ्ट किया गया था।मोदी कूनो में आधा घंटे रहेंगे। इस दौरान वे चीता मित्र दल के सदस्यों से बात करेंगे। पार्क में स्कूली बच्चों को भी आमंत्रित किया गया है। प्रधानमंत्री अपना जन्मदिन इन बच्चों के साथ मनाएंगे।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password