MP Bijli Bill : इन आसान तरीकों से ​आप के बिजली बिल हो सकते है कम, बस आपको करना होगा ये काम

mp bijli bill

भोपाल। गर्मी का मौसम आते ही जैसे-जैसे पारा चढ़ता है, वैसे-वैसे आपका बिजली का बिल mp bijli bill न बढ़े, इसके लिए मध्यक्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा कुछ कारगर तरीके सुझाये गए हैं। ए.सी. के टेम्प्रेचर को 24 से 26 डिग्री के बीच सेट करें। इससे कम टेम्प्रेचर करने पर ए.सी. के कंप्रेशर को ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। ए.सी. ज्यादा देर तक चलता है, इसलिए बिजली भी ज्यादा खर्च होती है, जिससे आपका बिल ज्यादा आता है। ए.सी. के साथ कमरे में पंखा भी चलाएं।

इस्तेमाल कर सील कर दें
ए.सी. के एयर फिल्टर को हर 10-15 दिनों में अच्छी तरह धोकर साफ करें। फिल्टर में धूल जमने से पूरी ठंडक नहीं मिलती और ए.सी. ज्यादा देर तक चलाना पड़ता है। ए.सी. वाले कमरों के खिड़की-दरवाजे ए.सी.चलने के दौरान मजबूती से बंद रखें। यदि दरवाजे-खिड़कियों में झिरियाँ हों तो उन्हें थर्मोकोल आदि का इस्तेमाल कर सील कर दें।

कूलर इस्तेमाल करने वालों के लिए
कूलर से पूरी ठंडक पाने के लिए जरूरी है कि कूलर जितनी हवा फेंक रहा है उतनी हवा कमरे से बाहर निकलने का भी पूरा इंतजाम हो। कूलर के पैड यदि खराब हो गये हैं तो उन्हें बदलवा लें। कूलर के पंखे और पंप की आइलिंग ग्रीसिंग करा लें। कूलर के पंखे के कंडेंसर और रेगुलेटर की जाँच भी अवश्य करायें। इलेक्ट्रॉनिक रेगुलेटर से बिजली कम खर्च होती है।

पंखे इस्तेमाल करने वालों के लिए
घर के सब पंखों की सर्विसिंग करा लें। खराब कंडेंसर, बाल बेयरिंग इत्यादि को तुरंत बदलवा लें। पंखे में इलेक्ट्रॉनिक रेगुलेटर का ही इस्तेमाल करें।

रेफ्रिजरेटर इस्तेमाल करने वालों के लिए
रेफ्रिजरेटर में कोई खराबी न भी दिखायी दे रही हो, तो गर्मी का मौसम शुरू होने के पहले रेफ्रिजरेटर की जाँच करा लें। रेफ्रिजरेटर का दरवाजा बार-बार न खोलें। दरवाजा ज्यादा देर तक खुला न रखें। दरवाजा बार-बार खुलने या ज्यादा देर खुला रहने से कंप्रेशर को फ्रिज का टेम्प्रेचर बनाये रखने में ज्यादा मेहनत लगती है। कंप्रेशर ज्यादा चलने से बिजली बिल बढ़ता है। एकदम गर्मागर्म खाना या दूध फ्रिज में न रखें। ऐसा करने से भी कंप्रेशर को ज्यादा देर चालू रहना पड़ता है और बिजली बिल बढ़ता है।

सबके लिए कुछ जरूरी टिप्स
अपने घर में बिजली की वही वायर और फिटिंग्स इस्तेमाल करें, जिन पर आई.एस.आई. का मार्क है। वायरिंग पुरानी/खराब होने से भी बिजली ज्यादा खर्च होती है और घर में आग लगने का खतरा हो सकता है। घर में हर जगह ऊर्जा दक्ष एलईडी लाइट का ही इस्तेमाल करें।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password