MP Assembly Winter Session: पहले दिन बदली आसंदी के पास की तस्वीर

MP Assembly Winter Session: विधानसभा सत्र के दूसरे दिन 21 विधायकों ने ली शपथ, नेहरू की तस्वीर बदलने का विरोध

Share This

MP Assembly Winter Session: मध्य प्रदेश विधानसभा का शीतकालीन सत्र का आज दूसरा दिन है। इस बीच सोमवार को आसंदी के पास लगी तस्वीर में एक बदलाव देखने को मिला यहां जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर की जगह डा. भीमराव आंबेडकर की तस्वीर लगाई गई थी।

सत्र के दूसरे दिन सरताज सिंह, रामदयाल अहिरवार, भगवत सिंह पटेल, कल्याण जैन, ताराचंद पटेल, रामदयाल भारद्वाज समेत दिवंगत नेताओं और विभूतियों को श्रद्धांजलि दी गई। दो मिनट के मौन के बाद सदन की कार्यवाही 20 दिसंबर सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

नेता प्रतिपक्ष किया विरोध

नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने पं. जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर हटाने पर विधानसभा परिसर में कहा कि डॉ. अंबेडकर के बाद ये गोडसे के फोटो लगाएंगे। नेहरू जी का फोटो हटाना महत्वपूर्ण नहीं है। महत्वपूर्ण ये है कि उनके विचार खत्म करने का प्रयास है।

प्रोटेम स्पीकर गोपाल भार्गव का बयान

विधानसभा से पूर्व पीएम नेहरु की तस्वीर पर हो रही सियासत को लेकर भार्गव बोले ये सब कुछ पिछले कार्यकाल के दौरान हुआ था। जब आसंदी के पीछे तस्वीरें लगाने का फैसला लिया गया था। तब नेहरू की तस्वीर के पीछे सीलन आ गई थी। इसी कारण तस्वीर बदलने का फैसला लिया गया। नेहरू और अंबेडकर दोनों ही हमारी सर्वोच्च नेता है। सबके लिए बराबर का सम्मान है। कांग्रेस की अगर कोई आपत्ति आए तो हमारे पास आ सकते हैं।

गोविंद सिंह ने कहा- बाबा साहब की तस्वीर लगाना अच्छी बात

मप्र विधानसभा से पूर्व पीएम नेहरु जी की तस्वीर हटाने के बाद अब सियासी बयानबाजी भी शुरु हो गई है। सागर जिले के सुरखी से विधायक गोविंद सिंह राजपूत का कहना है कि संविधान बना है वो बाबा साहेब की मेहनत थी। बाबा साहब की तस्वीर लगाना अच्छी बात है।

रामेश्वर शर्मा ने तस्वीर बदलने का किया समर्थन

भोपाल की हूजूर विधानसभा से विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि संविधान निर्माता बाबा साहेब अंबेडकर है या नहीं ? कांग्रेस के सभी नेताओ से पूछना चाहता हूं ? विधायिका संविधान बनाती है, क़ानून का निर्माण करती है। हमारी पूरी आस्था अंबेडकर जी के प्रति है। संविधान निर्माता करोड़ों लोगों की आस्था का केन्द्र हैं। कांग्रेस आस्था के केंद्र का उपहास करना चाहती है।

सोमवार को नरेंद्र सिंह तोमर ने विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल किया। नरेंद्र सिंह तोमर निर्विरोध विधानसभा अध्यक्ष चुने गए। नवनिर्वाचित विधायकों में सबसे पहले CM मोहन यादव ने और उनके बाद उमंग सिंघार ने भी सोमवार को शपथ ली। जिसमें पहले दिन प्रोटेम स्पीकर गोपाल भार्गव (Protem Speekar Gopal Bhargav) नवनिर्वाचित सदस्यों को सदस्य दिलाई थी।

नरेंद्र सिंह तोमर ने दाखिल किया नामांकन

इस सत्र में विधायकों को शपथ दिलाई जा रही है। इसी बीच नरेंद्र सिंह तोमर ने विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल किया। उन्हें विपक्ष का साथ मिला है। वे निर्विरोध चुने जाएंगे। आपको बता दें विधानसभा अध्यक्ष का चयन 20 दिसंबर यानि बुधवार को होगा। जिसके बाद प्रोटेम स्पीकर उन्हें शपथ दिलाएंगे।

 

कांग्रेस देगी एकजुटता का संदेश

मध्यप्रदेश विधानसभा सत्र के पहले दिन कांग्रेस विधायक एकजुटता का संदेश देंगे। नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार विधायकों की अगुवाई करेंगे। वहां से सभी एक साथ विधानसभा के लिए रवाना होंगे।

संबंधित ख़बरें 

MP News: पूर्व CM शिवराज को अचानक दिल्ली से क्यों आया बुलावा, जेपी नड्डा से करेंगे मुलाकात

Top News Today: कमलनाथ का फेसबुक अकाउंट लगातार दूसरे दिन हैक, MP में 15 दिन में होंगे ASI-SI स्तर के प्रमोशन,सीएम ने दिए निर्देश

संसद की सुरक्षा में चूक के बाद एमपी में अलर्ट

संसद में सुरक्षा चूक के बाद विधानसभा  (MP Assembly Winter Session) में त्रिस्तरीय सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं। करीब 1 हजार पुलिस जवान तैनात रहेंगे। बिना सुरक्षा जांच के किसी को भी एंट्री नहीं दी जाएगी। इसके अलावा यहां पर सीमित संख्या में विजिटर पास  (MP Visiters Pass) जारी किए गए हैं। दर्शक दीर्घा में जाने से पहले भी कड़ी जांच की जाएगी।

कमलनाथ नहीं होंगे शामिल

इस विशेष सत्र की कार्यवाही में पूर्व सीएम कमलनाथ (Kamal Nath) शामिल नहीं होंगे। उन्होंने अवकाश की सूचना प्रोटेम स्पीकर को पत्र लिखकर दी थी। 16वीं विधानसभा के पहले सत्र में पूर्व सीएम कमलनाथ अनुपस्थित रहे।

कमलनाथ के इस सत्र में अनुपस्थित रहने की अनुमति मांगी थी। इस पर प्रोटेम स्पीकर ने कमलनाथ के अनुपस्थित रहने के आवेदन को स्वीकार किया।  प्रोटेम स्पीकर गोपाल भार्गव को पत्र लिखकर कमलनाथ ने अनुपस्थित रहने की अनुमति मांगी थी। जिसके बाद अब  कमलनाथ को बाद में शपथ दिलाई जाएगी।

ये भी पढ़ें:

ISIS Network Case: NIA ने आज सुबह 19 लोकेशन पर मारी रेड, बड़ी मात्रा में कई सामान हुए बरामद

Ujjain News: गलत काम करने से मना करने पर पति ने बोला तीन तलाक, 13 साल पहले हुई थी दोनों की शादी

Chandra Mission: 2024 में चंद्रमा पर कई मिशन भर सकते है उड़ान, 19 जनवरी को होगी पहली उड़ान

Belagavi Incident: बच्चियों को बचाना है तो देश में बेटी नहीं “बेटा पढ़ाओ अभियान जरूरी” : हाई कोर्ट

MP Weather Update: मप्र में सर्द हवाओं ने बढ़ाई ठंड, 15 से ज्यादा शहरों में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password