अपने दुलारे को डूबता देख, मां ने जान की परवाह किये कुंए में लगाई छलांग

Shahdol News : अपने दुलारे को डूबता देख, मां ने जान की परवाह किये कुंए में लगाई छलांग

Shahdol News : कहते हैं ना कि एक मां के लिए उसका बच्चा दुनिया में सबसे महत्वपूर्ण होता है। चाहे कैसा भी खतरा हो, अपने बच्चे को बचाने के लिए मां हमेशा अपने जान की बाजी लगा देती है, ऐसा ही कुछ शहडोल में देखने को मिला जहां घर के आंगन में खेल रहे 2 वर्षीय बच्चा खेलते खेलते घर के आंगन में स्थित कुए में जा गिरा, इस बात की जानकारी लगते ही मां ने अपने जान की परवाह किये बिना बच्चें को बचाने के लिए कुंए में कूद गई, इस दौरान मां को कुए में कूदता देख पड़ोसी ने भी उन्हें बचाने के लिए कुए में छलांग लगा, अन्य पड़ोसियों की मदद से तीनों को कुए से बाहर निकाला गया। लेकिन दुःख की बात यह रही कि इसके बाबजूद भी मां अपने बच्चे को बचा न सकी, जो अब अपने बच्चे को गोद मे लेकर उसके जिंदगी की भीख मांग कर अस्पताल में विलाप लगा रही है।

क्या है पूरा मामला

कोतवाली अंतर्गत बिजली आफिस कालोनी में रहने वाले राजा पाल रोज की तरह मजदूरी में चला गया था, इस दौरान मां और उनका बेटा घर पर थे, मां घर के काम मे व्यस्त थी, इस दौरान उनका दो वर्षीय मासूम बालक घर के आंगन में खेल रहा था। खलते—खेलते अचानक बालक कुए में जा गिरा, जब बालक घर में नहीं दिखा तो परिजनों ने तलाश शुरू की।

पड़ोसियों ने भी लगाई छलांग

इस दौरान बच्चे की मां ने कुएं में जाकर देखा तो बालक अचेत अवस्था में तैरता दिखाई दिया, यह देख बच्चे को बचाने के लिए जान जोखिम में डालकर मां ने भी कुएं में छलांग लगा दी, मां के चीखने चिल्लाने पर पड़ोसी एकत्रित हो गए। और मां बेटे को कुए में देख एक पड़ोसी ने भी कुए में छलांग लगा दी, जिसके बाद पड़ोसियों की मदद से किसी तरह रस्सी डालकर तीनों को कुएं से बाहर निकाला गया। लेकिन दुःख की बात यह रही कि बच्चे को बचा नही सके, जबकि मां और पड़ोसी को चोट आने पर अस्पताल ले जाया गया, जहां उनका उपचार जारी है । इस दौरान घायल अवस्था मे मां अपने बेटे का शव गोद मे लेकर डॉक्टरों से उसके जिंदगी की भीख मांग कर अस्पताल में विलाप करती रही.

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password