कोरोना वायरस संक्रमण के और नए स्वरूप आएंगे सामने: नाइजीरियाई वैज्ञानिक

लागोस, चार जनवरी (एपी) ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका में सामने आए कोरोना वायरस संक्रमण के नए स्वरूप को लेकर दुनियाभर में बढ़ी चिंताओं के बीच नाइजीरिया के एक वैज्ञानिक ने कहा है कि कोविड-19 के अभी और कई नए स्वरूप सामने आएंगे।

नाइजीरिया के वैज्ञानिक ओमिलाबू ने कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ने के मद्देनजर देश में कोविड-19 के अलग प्रकार (वेरिएंट) के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए इसके नमूनों का आनुवांशिक विश्लेषण किया है, ताकि देश में इस संक्रमण को फैलने से रोकने में मदद मिल सके।

ओमिलाबू ने कहा, ‘‘ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका में वायरस के जो स्वरूप पाए गए हैं, वे नाइजीरिया में पाए गए स्वरूप से अलग हैं।’’

उन्होंने कहा कि वायरस का अलग स्वरूप में बदलना कोई असाधारण बात नहीं है।

ओमिलाबू ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि हमें अपना दिमाग शांत रखना होगा क्योंकि संक्रमण के और नए स्वरूप सामने आने वाले हैं।’’

विषाणु वैज्ञानिक ओमिलाबू ने रविवार को कहा कि देश में फैल रहे कोविड-19 संक्रमण के स्वरूप के बारे में जानकारी एकत्र करने से नाइजीरिया में इस बीमारी को फैलने से रोकने में मदद मिल सकती है।

नाइजीरिया अफ्रीका का सबसे अधिक आबादी वाला देश है, जहां 19 करोड़ 60 लाख लोग रहते हैं।

‘अफ्रीका रोग नियंत्रण एवं प्रबंधन केंद्र’ के रविवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, नाइजीरिया में संक्रमण के 89,163 मामलों की पुष्टि हुई है, जिनमें से 1,302 लोगों की मौत हो चुकी है।

‘लागोस यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ मेडिसिन एंड टीचिंग हॉस्पिटल’ में ‘सेंटर फॉर ह्यूमन एंड जूनोटिक वायरोलॉजी’ के निदेशक ओमिलाबू ने कहा कि नाइजीरिया में संक्रमण के नए मामले बढ़ रहे हैं, लेकिन अभी यह निश्चित नहीं है कि ये लोग संक्रमण के नए स्वरूप से संक्रमित हैं या नहीं।

उन्होंने कहा कि अभी यह पता लगाने के लिए शोध करने की आवश्यकता है कि क्या संक्रमण के पहले से भी अधिक तेजी से फैलने का कारण देश में मिला इसका नया स्वरूप है या नहीं।

एपी सिम्मी नरेश

नरेश

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password