सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने 2021 के लिए डिजिटल कैलेंडर की शुरुआत की

नयी दिल्ली, आठ जनवरी (भाषा) सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने शुक्रवार को 2021 के लिए डिजिटल कैलेंडर और डायरी की शुरुआत की। इससे मंत्रालय को छपाई पर आने वाले खर्च में करीब पांच करोड़ रुपये की बचत होगी।

नेशनल मीडिया सेंटर में ऐप की शुरुआत की गयी। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने एक बटन दबाकर कैलेंडर और डायरी के लिए एंड्रायड और आईओएस ऐप की शुरुआत की।

उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘हर साल हम 11 लाख कैलेंडर और 90,000 डायरी छपवाते हैं लेकिन इस साल यह डिजिटल प्रारूप में है।’’

पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी) के प्रमुख के एस धतवालिया ने पीटीआई-भाषा को बताया कि पिछले साल कैलेंडर और डायरी छपवाने में सात करोड़ रुपये खर्च हुए थे लेकिन इस बार डिजिटल प्रारूप में होने के कारण मंत्रालय को करीब दो करोड़ रुपये की लागत आयी।

इस अवसर पर जावडेकर ने खुशी जतायी कि दीवारों पर लगाया जाने वाला कैलेंडर अब मोबाइल फोन में उपलब्ध होगा।

जावडेकर ने कहा, ‘‘यह ऐप हर साल नए कैलेंडर की जरूरत पूरी करेगा। हर महीने का एक विषय निर्धारित होगा और उसमें संदेश दिए जाएंगे और एक महापुरूष का जिक्र होगा। ऐप लोगों को विभिन्न सरकारी कार्यक्रमों की शुरुआत की टाइमलाइन के बारे में भी बताएगा।’’

ऐप की डायरी के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘डायरी के कारण कैलेंडर में और खासियतें जुड़ गयी है। दूसरे डिजिटल कैलेंडर ऐप की तुलना में इसमें ज्यादा विशेषताएं हैं और यह इस्तेमाल करने में भी आसान है।’’

उन्होंने कहा कि ‘जीओआई कैलेंडर’ ऐप निशुल्क है और यह 15 जनवरी से 11 भाषाओं में उपलब्ध होगा।

सूचना और प्रसारण मंत्रालय के ‘ब्यूरो ऑफ आउटरीच एंड कम्युनिकेशन’ ने ऐप को डिजाइन और विकसित किया है। मंत्रालय ने कहा कि फिलहाल यह हिंदी और अंग्रेजी भाषा में उपलब्ध है और जल्द ही इसे 11 अन्य क्षेत्रीय भाषाओं में उपलब्ध कराया जाएगा।

भाषा आशीष पवनेश

पवनेश

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password