महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष ने सामना की भाषा पर रश्मि ठाकरे को पत्र लिखा

मुंबई, दो जनवरी (भाषा) महाराष्ट्र भाजपा के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में प्रधानमंत्री और अपनी पार्टी के अन्य नेताओं के खिलाफ ‘खराब भाषा’ के इस्तेमाल के मुद्दे को अखबार की संपादक रश्मि ठाकरे के साथ उठाया है जो मुख्यमंत्री और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे की पत्नी हैं।

पाटिल ने रश्मि ठाकरे को शनिवार को लिखे पत्र में उनसे पूछा कि क्या वह संपादक के रूप में भाषा की इस गुणवत्ता को लेकर ‘सहज’ हैं।

शिवसेना के राज्यसभा सदस्य संजय राउत इस मराठी दैनिक के कार्यकारी संपादक हैं।

पाटिल ने हाल ही में अखबार में इस्तेमाल भाषा पर नाराजगी जताते हुए कहा था कि वह इसकी संपादक को पत्र लिखकर अपना विरोध दर्ज कराएंगे।

पाटिल ने मराठी में लिखा, ‘‘मेरा आपसे अनुरोध है कि ‘सामना’ में इस्तेमाल भाषा पर पुनर्विचार करें। ‘सामना’ की संपादक के रूप में आपके प्रकाशन में इस्तेमाल भाषा के लिए आप जिम्मेदार हैं। मैं आपको व्यक्तिगत रूप से जानता हूं और मानता हूं कि आप भी ऐसी भाषा पसंद नहीं करती होंगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘पिछले कुछ दिन से ‘सामना’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, (भाजपा के) केंद्रीय और महाराष्ट्र के नेताओं के खिलाफ खराब और अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहा है। यदि आप इस तरह की भाषा के इस्तेमाल को लेकर सहज हैं तो आप इसे जारी रख सकती हैं।’’

शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे ने मराठी दैनिक की स्थापना की थी। वह अपने अंतिम समय तक इसके संपादक रहे थे। इसके बाद उद्धव ठाकरे ने यह जिम्मेदारी संभाली और मुख्यमंत्री बनने के बाद पिछले साल नवंबर में यह पद छोड़ दिया और अपनी पत्नी रश्मि ठाकरे को संपादक बनाया।

भाषा

वैभव माधव

माधव

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password