Maha Rajyog Date For Caesarean In July: इन महा राजयोगों में कराएंगे सिजेरियन, तो होने वाला बालक बैठेगा राजगद्दी पर, देखें तारीख और समय

Maha Rajyog Date For Caesarean In July : इन महा राजयोगों में कराएंगे सिजेरियन, तो होने वाला बालक बैठेगा राजगद्दी पर, देखें तारीख और समय

नई दिल्ली। हर किसी मां—बाप का सपना Maha Rajyog Date For Caesarean In July होता है कि उनका बच्चा एक जिंदगी में दौलत, शौहरत और बड़ा नाम कमाए। इसके लिए मेहनत के साथ आपकी किस्मत होना जरूरी है। पर ऐसा तब होता है जब बच्चे का जन्म विशेष राजयोग में हो। यदि आपके घर में किसी नन्हें मेहमान की दस्तक होने वाली है और और आप चाहते हैं कि आपका बच्चा राजगद्दी पर बैठे। तो आप इसे लेकर कुछ हद तक प्रयास कर सकते हैं।
वो ऐसे अगर आपको डॉक्टर ने सिजेरियन यानि आपरेशन से डिलीवेरी की सलाह दी है तो आप इन विशेष योगों में आपरेशन करा कर बच्चे का भविष्य तय कर सकते हैं।
तो चलिए पंडित अनिल पांडे के अनुसार आज हम आपको बताने जा रहे हैं इस महीने कौन से विशेष योग बनने जा रहे हैं। और इसमें सबसे खास माना जाने वाला राजयोग कब बन रहा है।

योगों का राजा राजयोग —
ज्योतिषशास्त्र में कुछ योगों को राजयोग कहा गया है। यह विशेष शुभ योग होता है और जिनकी कुंडली में यह योग पाया जाता है, उनका जीवन राजा के समान होता है। कुछ राज योग तो वास्तव में ऐसे होते हैं, जो व्यक्ति को राजगद्दी पर भी बैठा देते हैं। इसलिए अक्सर लोग यह चाहते हैं कि उनके बालक का जन्म प्रबल राजयोग में हो। जिससे उसका भविष्य उज्जवल रहे। अतः किसी माह में प्रबल राजयोग कब है यह जानना आवश्यक है।

ज्योतिष शास्त्र के सभी प्रमाणिक ग्रंथ जैसे मानसागरी बृहज्जातकम बृहद एवं लघु पाराशरी आदि ग्रंथों में विभिन्न राज योगों का वर्णन किया गया है। पंडित अनिल पाण्डेय के अनुसार जानते हैं जुलाई माह में कब आ रहा है सबसे प्रबल राजयोग।

जुलाई माह में गुरु, शुक्र, मंगल, शनि और बुध ग्रह अपने स्वयं की राशि में बैठे हुए हैं। शनि अपनी स्वयं की राशि में बैठा हुआ है परंतु वक्री है। अतः यह अच्छे फल नहीं देगा। इसी प्रकार मंगल भी स्वगृही होने पर भी राहु के प्रभाव के कारण अच्छा फल नहीं देगा। अतः मंगल और शनि को हम इस योग से अलग कर रहे हैं।

ये ग्रह पंच महापुरुष योग बनाते है। अतः ये ग्रह जब जब लग्न से केंद्र में रहेंगे तब तक राजयोग बनेगा। इस प्रकार प्रतिदिन एक सामान्य प्रकार का राजयोग बनेगा जो कि एक निश्चित समय अवधि में होगा।

यहां जानें राजयोग की तारीखें और समय —

1 जुलाई —
1 जुलाई को जबलपुर के समय एवं भुवन विजय पंचांग के अनुसार 00:38 तक, 2:18 से 4:16 तक, 4.16 से 6.30 तक , 8.47 से 10.51 तक 10.51 से 13:10 तक , 15:25 से 17:41 तक , 17:41 से 19:47 तक , 21:34 से 23:07 तक एवं 23:07 से 24:00 बजे तक। इन सभी समयावधि में 1 जुलाई को पंच महापुरुष योग बनेगा। इस समय में जन्म लिया बालक आगे चलकर एक अच्छा अधिकारी या व्यापारी होगा। परंतु यह बालक उच्च कोटि और अत्यंत उच्च कोटि का अधिकारी या व्यापारी आदि नहीं बन पाएगा।

9 जुलाई —
इसके अलावा 9 जुलाई से 11 जुलाई के बीच में भिन्न-भिन्न समय पर चंद्रमा के कारण नीच भंग राज योग बन रहे हैं। इस योग को पंच महापुरुष के योग के साथ देखने पर योग के फल की मात्रा में वृद्धि होगी।

इस दिन बन रहा है उच्च और अति​ उच्च कोटि का राजयोग —
आइए अब देखते हैं कि किस किस दिन उच्च कोटि एवं अत्यंत उच्च कोटि का योग बन रहा है।
5 जुलाई को 1:26 दिन से 7 जुलाई की रात 8:23 तक उच्च कोटि का गजकेसरी योग बन रहा है। इसके अलावा 12 जुलाई को 3:27 प्रातः से 14 जुलाई की प्रातः 5:45 तक, और 18 तारीख को दिन के 12:11 से 20 तारीख के 5:56 शाम तक भी यह योग है। अत्यंत उच्च कोटि का योग देखने के लिए पंच महापुरुष योग और गजकेसरी योग दोनों को जोड़ना होगा।

इस प्रकार हम कह सकते हैं कि जुलाई के माह में जन्म पाए हुए अधिकांश बालक एक अच्छे नागरिक एवं अच्छे पुत्र होंगे। यह सब बालक ईश्वर की कृपा से भाग्य से परिपूर्ण होंगे और भाग्य के कारण अपने परिश्रम से ज्यादा अर्जित करेंगे। अगर आप मे से किसी को अत्यंत उच्च कोटि के योग का सही समय का ज्ञान प्राप्त करना है।

नोट : इस लेख में दी गई सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित है। बंसल न्यूज इसकी पुष्टि नहीं करता। अमल में लाने से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

 

anil kumar 2

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password