खुद को IPS बता लोगों को देता था चकमा, कैलाश विजयवर्गीय को बताता था रिश्तेदार -

खुद को IPS बता लोगों को देता था चकमा, कैलाश विजयवर्गीय को बताता था रिश्तेदार

भोपाल। मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में एसटीएफ ने ए​क फर्जी आईपीएस  ujjain stf arrested fake ips officer को गिरफ्तार किया है। उज्जैन एसटीएफ ने फर्जी आईपीएस  fake ips officer और अपने आप को कैलाश विजयवर्गीय का रिश्तेदार बता कर धोखाधड़ी करने वाले को गिरफ्तार किया। अपने आप को फर्जी आईपीएस अधिकारी और बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय का रिश्तेदार बताने वाले फर्जी आईपीएस ,kailash vijayvargiya relatives fake ips के पास से 100 से अधिक चेक बुक और लाखों रुपए के फर्जी चेक उज्जैन एसटीएफ ने जब्त किया है।

कई मामले दर्ज हो चुके हैं

उज्जैन एसटीएफ ने बताया कि अपने आप को फर्जी आईपीएस बताने वाले आरोपी (आईपीएस नाम बताकर ) ज्योतिर्मयी विजयवर्गीय इंदौर का रहने वाला है और अब तक उस पर इंदौर के दो थाना क्षेत्र सहित मुंबई और उज्जैन में धोखाधड़ी के कई मामले दर्ज हो चुके हैं।

ये है मामला

उज्जैन एसटीएफ को आष्टा के टोल प्लाजा के कर्मचारी से शिकायत मिली थी कि अपने आपको आईपीएस  विपिन माहेश्वरी बताने वाला फॉर्चून कार एमपी 04 सीएन 0270 को बिना टोल टैक्स दिए पास कराने और अपना रुतबा दिखाकर 3 , 4 परिचित लोगों को टोल पे नौकरी दिलाने दिलाने की बात कहने वाला संभवत फर्जी आईपीएस अधिकारी है।

घटना के गंभीरता से लेते हुए उज्जैन एसटीएफ की टीम ने ज्योतिर्मयी को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पता चला कि ज्योतिर्मय अपने आप को आईपीएस अधिकारी और कैलाश विजयवर्गीय का रिश्तेदार बता कर अब तक कई लोगों के साथ धोखाधड़ी कर चुका है।

लोगों को धमका कर धोखाधड़ी करता था

आरोपी के घर से एसटीएफ की टीम को 100 से अधिक चेक बुक और लाखों रुपए के चेक भी मिले हैं साथ ही यह भी जानकारी हाथ लगी है कि ज्योतिर्मय के खिलाफ इंदौर के दो थाना क्षेत्र मुंबई और उज्जैन में पहले से ही मामले दर्ज है पूछताछ में आरोपी ने एसटीएफ को बताया कि उसने ट्रूकॉलर पर अपनी प्रोफाइल आईपीएस के नाम पर सेव कर रखी थी और इसी का प्रभाव दिखा कर वह लोगों को धमका कर धोखाधड़ी करता था।

रुतबा दिखाकर लोगों को धमकाया

एसटीएफ ने बताया कि आरोपी अपने आप को बीजेपी के बड़े नेता कैलाश विजयवर्गीय का रिश्तेदार भी बताता था पुलिस इस बात की भी जानकारी ले रही है कि अब तक इस ने कितने लोगों के साथ धोखाधड़ी की है और कहां-कहां आईपीएस का रुतबा दिखाकर लोगों को धमकाया है।

आरोपी के खिलाफ थाना भोपाल दर्ज है केस

जिस बढ़िया लिसन फॉर्च्यूनर गाड़ी का रुतबा वह लोगों को दिखाता था वह भी उसने धोखाधड़ी से ली थी 14 लाख रुपए में गाड़ी का सौदा किया और विक्रता राजीव आर्य इंदौर निवासी को फर्जी चेक पकड़ा दिए थे। आरोपी के खिलाफ थाना भोपाल में धारा 170, 419, 420 और 160 / 20 में केस दर्ज किया गया है।
Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password