LSD Strips Seized: अमीरों का नशा होता है एलएसडी! भोपाल में पहली बार पकड़ाई, 7 से 10 लाख तक का माल बरामद

LSD Strips Seized

भोपाल। राजधानी में एक बार फिर भारी मात्रा में ड्रग्स और एमडी, एलएसडी के साथ 3 आरोपियों LSD Strips Seized को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने आरोपियों के पास से 7 से 10 लाख का तक ड्रग्स और एलएसडी बरामद किया है। जानकारी के मुताबिक एलएसडी ड्रग्स की टेबलेट पहली बार भोपाल में पकड़ाई है। आरोपी अंतराष्ट्रीय डार्कनेट वेबसाइट से ड्रग खरीद कर बेचते थे। भोपाल की पिपलानी पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों से पूछताछ जारी है। अनुमान लगाया जा रहा है कि और भी खुलासे हो सकते है।

पिपलानी पुलिस ने बताया कि मंगलवार को मुखविर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि प्रखर नाम का लड़का अपने दो साथियों के साथ इंद्रपुरी में घूम रहा है तीनों लड़कों के पास एमडी मादक पदार्थ जिसे म्यांऊम्यांऊ कहते है तथा एलएसडी बेंचने के लिए रखे हुए है।

20 हजार रूपये के इनाम देने की घोषणा की गई है 

सूचना मिलने के बाद एक टीम मौके पर पहुंचकर मुखविर द्वारा संदेहियों को बीमा अस्पताल के पास से पकड़ा। 3 लड़कों को पकड़कर नाम पता पूछने पर अपना नाम प्रखर सिंह, ऋत्विक कौशल, आयुष मनवानी बताया। तीनों संदेहियों से पुलिस ने पूछताछ की। आरोपियों के पास से नशे में प्रयोग होने वाले प्रतिबंधित मादक पदार्थ 100 LSD के स्टेम्प, 100 नग XTC/MDMA के Tablet, 5 ग्राम MD जिसकी कीमत करीब 7-10 लाख रूपये होगी आरोपियों के कब्जे से जब्त किया गया है। पिपलानी पुलिस की इस कार्रवाई पर उप पुलिस महानिरीक्षक द्वारा 20 हजार रूपये के इनाम देने की घोषणा की गई है ।

इस तरह करते थे सप्लाई
आरोपी प्रखर सिंह मादक पदार्थ का प्रमुख सप्लायर है जो मेकेनिकल इंजीनियर है वह इंटरनेट कैफे पर जाकर डार्कनेट को एक्सिस करता था एवं वहां के वेवसाइट से मादक पदार्थ आर्डर करता था। आर्डर करने हेतु वह सिंगल टाईम यूज ई-मेल एड्रेसेस बनाता था और उस पर एन्क्रिप्टेड मैसेजेस द्वारा बेंचने वाले से सम्पर्क स्थापित करता था इसके लिये वह करेंसी बदलकर डॉलर एवं बिटक्वाइन के माध्यम से पैसा ऑनलाईन भुगतान करता था।

भोपाल में पहली बार जप्त हुआ

आर्डर किये गये मादक पदार्थ को डिलेवरी करने वाला किसी सुनसान जगह पर रखकर एन्क्रिप्टेड मैसेज से मेल के द्वारा डिलेवरी स्थान की जानकारी दे दी जाती थी। आरोपी उस स्थान से मादक पदार्थ उठाकर आरोपी प्रखर सिंह अपने साथी ऋत्विक कौशल एवं आयुष मनवानी के माध्यम से रेव पार्टियां एवं कॉलेज के छात्रों तक पहुंचाई जाती है। गौरतलब है कि आरोपियों से LSD, XTC/MDMA नामक दोनों मादक पदार्थ भोपाल में पहली बार जप्त हुआ है।

कीमत 4-5 हजार रुपये तक होती है

एलएसडी को अमीरों का नशा कहा जाता है। इसके एक स्टैम्प (डाक टिकट जितना साइज) की कीमत 4-5 हजार रुपये तक होती है। एलएसडी ड्रग्स (लाइसर्जिक एसिड डाइएथाइलामाइड) का नशा करने वाले लोग इसे स्वर्ग का टिकट भी कहते हैं। पार्टीखोर यंगस्टर्स का यह सबसे पसंदीदा नशा बनता जा रहा है। एलएलडी केस के एक्सपर्ट बताते है कि भारत में एलएसडी लिक्विड और पेपर दोनों फॉर्म में मिलती है। अमेरिका, ग्रीस, नीदरलैंड, जर्मनी जैसे देशों से तस्करी के जरिये इस नशे को भारत में लाया जाता है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password