Metrology Conclave: PM ने नेशनल एटॉमिक टाइमस्केल का किया उद्घाटन, बोले- अब देश सेकंड के अरबवें हिस्से को मापने में सक्षम

Image Source: [email protected]BJP

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नेशनल मेट्रोलॉजी कॉन्क्लेव (National Metrology Conclave) का उद्घाटन किया। इसके साथ ही पीएम ने नेशनल एटॉमिक टाइमस्‍केल (National Atomic Timescale) और भारतीय निर्देशक द्रव्य (Bhartiya Nirdeshak Dravya) राष्ट्र को समर्पित किया। नेशनल मेट्रोलॉजी कॉन्क्लेव में पीएम मोदी ने कहा, भारत अब सेकंड के अरबवें हिस्से को मापने में सक्षम हो गया है।

एटॉमिक टाइमस्केल 2.8 नैनोसेकंड की सटीकता के साथ भारतीय मानक समय (Indian Standard Time) बताता है। PM मोदी ने राष्ट्रीय पर्यावरण संबंधी मानक प्रयोगशाला ‘नेशनल एनवायरमेंटल स्टैंडर्ड लैबोरेट्री’ (National Environmental Standards Lab) की आधारशिला भी रखी। कार्यक्रम में केन्‍द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Dr. Harsh Vardhan) भी उपस्थित रहे।

ग्लोबल इनोवेशन रैंकिंग में दुनिया के टॉप 50 देशों में पहुंचा भारत-PM
प्रधानमंत्री ने कहा, भारत के वैज्ञानिकों ने एक नहीं दो मेड इन इंडिया कोविड वैक्सीन विकसित करने में सफलता पाई है। भारत में दुनिया का सबसे बड़ा कोविड वैक्सीन कार्यक्रम शुरू होने जा रहा है। इसके लिए देश को अपने वैज्ञानिकों के योगदान पर बहुत गर्व है। आज भारत ग्लोबल इनोवेशन रैंकिंग में दुनिया के टॉप 50 देशों में पहुंच गया है, आज बेसिक रिसर्च पर भी जोर दिया जा रहा है।

पीएम ने कहा, देश 2022 में अपनी स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे कर रहा है और 2047 में हमारी आज़ादी के 100 वर्ष होंगे। इस दौरान हमें आत्मनिर्भर भारत के नए संकल्पों को ध्यान में रखते हुए नए मानकों को गढ़ने की दिशा में आगे बढ़ना ही है।

पीएम मोदी ने कहा, CSIR-NPL भारत का ‘टाइम कीपर’ है यानी भारत के समय की देखरेख और व्यवस्था आपके ही जिम्मे है। जब समय की जिम्मेदारी आपकी है तो समय का बदलाव भी आप से ही शुरू होगा। नए समय का, नए भविष्य का निर्माण भी आप से ही दिशा पाएगा।

आत्मनिर्भर भारत का संकल्प लेकर आगे बढ़ रहा देश-मोदी
पीएम ने कहा, आज जब देश ‘आत्मनिर्भर भारत’ का संकल्प लेकर आगे बढ़ रहा है तो हमें याद रखना है कि इसका लक्ष्य क्वांटिटी भी है लेकिन साथ-साथ क्वालिट भी उतनी ही महत्वपूर्ण है। हमें दुनिया को केवल भारतीय उत्पादों से भरना नहीं है, हमें भारतीय उत्पादों को खरीदने वाले हर ग्राहक का दिल भी जीतना है। हमारा देश दशकों से क्वालिटी और मापने के लिए विदेशी स्टैंडर्ड पर निर्भर रहा है लेकिन इस दशक में भारत को अपने स्टैंडर्ड को नई ऊंचाई देनी होगी। इस दशक में भारत की गति, प्रगति, उत्थान, छवि, सामर्थ्य, हमारी क्षमता का निर्माण हमारे स्टैंडर्ड से ही तय होंगे।

MP Mantrimandal Vistar: शिवराज कैबिनेट का तीसरा विस्तार, तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह ने ली मंत्री पद की शपथ

प्रधानमंत्री मोदी कल यानी 5 जनवरी 2021 को सुबह 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोच्चि-मंगलुरू प्राकृतिक गैस पाइपलाइन राष्ट्र को समर्पित करेंगे।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password