LIC IPO: रूस-यूक्रेन के युद्ध कारण आगे बढ़ेगी एलआईसी आईपीओ की डेट!

LIC IPO: रूस-यूक्रेन के युद्ध कारण आगे बढ़ेगी एलआईसी आईपीओ की डेट!

lic-ipo-due-to-russia-ukraine-war-lic-ipo-dates-will-go-ahead

रूस-यूक्रेन संकट का असर पूरे दूनिया भर के मार्केट में दिखाई दे रहा है। देश की सबसे बड़ी इंश्योरेंस कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) के आईपीओ (IPO)में भी इसका असर पड़ता दिख रहा है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने एक मीडिया चैनल को इंटरव्यू दिया है। इस इंटरव्यू में आईपीओ के टाइमिंग में बदलाव के संकेत वित्त मंत्री द्वारा दिया गया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि रूस और यूक्रेन के युद्ध के वजह से एलआईसी आईपीओ (LIC IPO) पर एक बार फिर से विचार किया जा सकता है।

13 फरवरी को एलआईसी आईपीओ (LIC IPO) के डॉक्यूमेंट के लिए 13 मार्च तक की समय सीमा निर्धारित की गई थी। इस आईपीओ (IPO) के जरिए सरकार 31 मार्च 2022 तक बजट घाटे को कम करना चाहती है। इस आईपीओ के जरिए सरकार LIC में अपनी 5% हिस्सेदारी कम करना चाहती है। जिसका उद्देश्य 8 बिलियन डॉलर फंड जुटाने की है। यह आईपीओ पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल (OFS) है जिसके जिरिए मिलने वाला पूरा पैसा सरकार के पास जाएगा।

रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच एलआईसी आईपीओ (LIC IPO) की डेट आगे बढ़ाने के लिए कई बडे़ बैंकर, फाइनेंस एक्सपर्ट,शेयर मार्केट के जानकार सलाह दे रहे हैं। युद्ध के कारण आईपीओ (IPO) में देरी होने की पूरी संभावना है। रिपोर्ट के अनुसार एलआईसी आईपीओ में पैसा लगाने के लिए बड़ी संख्या में छोटे निवेशकों ने ट्रेडिंग अकाउंट खुलाया है। वर्तमान में युद्ध के कारण शेयर मार्केट की उठापटक जारी है। अगर आईपीओ आने में देरी की जाती है तो एलआईसी आईपीओ निवेशको के जोखिम को कम किया जा सकता है।

LIC IPO: LIC में 20% विदेशी निवेश की मंजूरी, प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में मिली मंजूरी

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password