MP News: डिंडौरी एसपी को पुलिस हैडक्वाटर में ही रखने का किया निवेदन

MP में विपक्ष के नेता सिंघार ने सीएम मोहन यादव से किया अनूठा निवेदन, मुख्यमंत्री जी इस IPS अफसर को लूप लाइन में ही रखें

mp-political-news
Share This

भोपाल। MP News: मध्यप्रदेश में विपक्ष के नेता उमंग सिंघार (Opposition Leader Umang Singhar) ने मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव (CM Mohan Yadav) से अनूठा निवेदन किया है।

नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार (Opposition Leader Umang Singhar) ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर पोस्ट कर दो दिन पहले डिंडौरी में पदस्थ हुए पुलिस अधीक्षक अखिल पटेल (SP Akhil Patel) को पुलिस मुख्यालय (Police Headquarters) लूप—लाइन में रखे जाने का निवेदन किया है।

संबंधित खबर: MP News: लाड़ली बहनों के खाते में 10 जनवरी को आएंगे पैसे, नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार ने कह दी ये बात

यह है पूरा मामला

दरअसल पूरा विवाद आईपीएस अधिकारी अखिल पटेल (IPS officer Akhil Patel) और कांग्रेस नेता उमंग सिंघार (Congress Leader Umang Singhar) के बीच तथाकथित रिश्तेदारी से जुड़ा हुआ है।

2015 बैच के आईपीएस अधिकारी अखिल पटेल (IPS officer Akhil Patel) की पोस्टिंग का आदेश 4 जनवरी को हुआ था। जिसके बाद डिंडौरी (Dindori) की स्थानीय मीडिया में इन्हें सिंघार का बहनोई बताया गया।

इस पूरे घटनाक्रम को सिंघार (Opposition Leader Umang Singhar) द्वारा की गई उस तारीफ से जोड़ दिया गया, जो उन्होंने मोहन सरकार द्वारा क्लेक्टरों पर की जा रही तबादले की कार्रवाई पर की थी।

जिसके बाद उमंग सिंघार (Opposition Leader Umang Singhar) ने इस मामले में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर पोस्ट किया।

सिंघार ने अपनी पोस्ट में यह लिखा

नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार (Opposition Leader Umang Singhar) ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर लिखा कि “मुख्यमंत्री मोहन यादव जी (CM Mohan Yadav), नवनियुक्त डिंडोरी पुलिस अधीक्षक (Dindori SP) मेरे रिश्तेदार हैं शायद यह जानकारी आपको भी नहीं होगी, लेकिन मीडिया में आयी ख़बरों से लग रहा है कि हाल ही में हुए इस स्थानांतरण आदेश का कुछ ग़लत अर्थ निकाला जा रहा है।

कौन अधिकारी कहां पदस्थ हो यह आपका विवेकाधीन अधिकार है, परंतु मेरा निवेदन है कि यह आदेश निरस्त कर उन्हें पुलिस मुख्यालय (Police Headquarters) लूप-लाइन में ही रखा जाये, ताकि प्रदेश की जनता के सामने भ्रम की स्थिति ना रहे एवं एक ज़िम्मेदार पुलिस अधिकारी की छवि भी ख़राब ना हो।

साथ ही मीडिया को भी एहसास रहे कि इस तरह की भ्रमित करने वाली टेबल या मैनेज न्यूज़ ना बनाई जाएं।

संबंधित खबर: Mohan Yadav: रीवा में कांग्रेस पर जमकर बरसे सीएम मोहन यादव, अफसरों को लेकर फिर दिया बड़ा बयान

कलेक्टर से विवाद के चलते अनूपपुर से हटाए गए थे

शिवराज सरकार में आईपीएस अधिकारी अखिल पटेल (IPS officer Akhil Patel) अनूपपुर में पदस्थ थे।

नवंबर 2022 में अनूपपुर कलेक्टर सोनिया मीना (Collector Sonia Meena) से विवाद के चलते तत्कालीन शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) सरकार ने अखिल पटेल को अनूपपुर एसपी (Anuppur SP) के पद से हटा दिया था।

ये भी पढ़ें:

Top Hindi News Today: बेलेश्वर मंदिर बावड़ी हादसे में 265 पन्नों की स्टेटस रिपोर्ट पेश, मंदिर ट्रस्ट अध्यक्ष, सचिव को माना दोषी

मुंबई में 2 करोड़ में नीलाम हुआ दाऊद का 15 हजार का प्लॉट, यहां अब सनातन धर्म की पाठशाला चलाएंगे खरीदार

MP News: रायसेन में फॉरेस्ट टीम पर हमला, अवैध रास्ते बंद करवा रहे डिप्टी रेंजर गंभीर घायल

Budget 2024 Exclusive: निर्मला सीतारमण पेश करेंगी देश का बजट, जानें जनता की 4 उम्मीदों के बारे में

Indore Silent Heart Attack: किराना ब्रोकर को आया साइलेंट हार्ट अटैक, मौके पर हुई मौत

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password