Corona Update: विश्रामघाटों पर लगी शवों की कतार, भदभदा पर 36 और पूरे भोपाल में 41 शवों का अंतिम संस्कार

भोपाल। कोरोना महामारी लगातार प्रदेश सहित पूरे देश में कहर बरपा रही है। कोरोना की दूसरी लहर से प्रदेश में रोजाना कई मरीज दम तोड़ रहे हैं। गुरुवार को भोपाल में 41 कोरोना मरीजों का अंतिम संस्कार किया गया। पहली बार भदभदा विश्रामघाट पर 36 शव अंतिम संस्कार के लिए पहुंचे। इनमें से 31 शवों का कोरोना प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया गया। इनमें से 13 शव भोपाल के और 18 शव बाहर के थे। यह प्रदेश में एक दिन में किसी भी शहर में होने वाले अंतिम संस्कार का सबसे बड़ा आंकड़ा है। भदभदा विश्रामघाट के पहली बार ऐसे हालात हुए हैं कि शवों का अंतिम संस्कार करने के लिए जगह कम पड़ गई और नई जगह तैयार करनी पड़ी।

भदभदा विश्राम घाट में कोरोना संक्रमित शवों के अंतिम संस्कार के लिए कुल 12 पिलर तय किए गए हैं। वहां गुरुवार को जब शव जलाने की जगह नहीं बची तो विद्युत शवदाह के ग्राउंड में नई जगह तैयार करनी पड़ी। इतना ही नहीं यहां 36 शवों के अंतिम संस्कार के बाद भी 8 परिवारों ने शव लाने के लिए श्मशान घाट फोन किया था। हालांकि शाम होने के कारण उन्हें अगले दिन आने के लिए कहा गया। भदभदा विश्रामघाट के अध्यक्ष अरुण चौधरी ने बताया कि इतनी बड़ी संख्या में पहली बार शवों का अंतिम संस्कार किया गया है। शहर के सुभाष नगर विश्रामघाट में भी पांच शवों का दाह संस्कार किया गया और झदा कब्रिस्तान में भी 5 शवों को दफनाया गया।

गुरुवार को मिले रिकॉर्ड मरीज
बता दें कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में रिकार्ड 4882 नए केस मिले हैं। बताया जा रहा है कि प्रदेश में गुरूवार को 23 मौतें हुई हैं। प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 30,486 हो गई है। प्रदेश में संक्रमण रेट 13% से ज्यादा हो चुका है। उधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक दिन पहले मुख्यमंत्रियों की बैठक में कहा कि RT-PCR टेस्ट को बढ़ाए और 72 घंटे मे 30 कांटैक्ट ट्रेसिंग की जरूरत है। मप्र में 70% RT-PCR और 30% एंटीजन टेस्ट हो रहे हैं। लेकिन कांटैक्ट ट्रेसिंग में लापरवाही की जा रही है। इसी तरह सैंपल की रिपोर्ट आने में भी 3 से 4 दिन का समय लग रहा है। बताया जा रहा भोपाल AIIMS में बड़ी संख्या में स्टाफ कोरोना पॉजिटिव हुए है। एम्स भोपाल के 186 डॉक्टरों की कोरोना जांच हुई थी। बताया जा रहा है कि 102 लोग कोरोना पॉजिटिव में मिले है जिसमें 24 डॉक्टर्स भी शामिल है जिनमें से ​कुछ महिला डॉक्टर्स भी शामिल है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password