KHARGON DANGA FIRST DEATH: दंगे में हुई हिंसा से पहली मौत,उलेमाओं ने विधायक संग सौंपा ज्ञापन

KHARGON-BHOPAL: खरगोन में आठ दिन से लापता युवक की मौत हो गई है, बता दें कि शहर में दंगे की रात यानि 10 अप्रैल से युवक लापता था। मृतक का नाम इबरेश खान है और वह इस्लामपुरा का निवासी था। इस मामले में प्रभारी एसपी रोहित काशवानी का बयान सामने आया है। उन्होंने बताया कि 10 तारीख को अज्ञात शव मिला था, जिसके सिर पर पत्थर की चोट लगने से मौत हुई थी। खरगोन में फ्रीजर न होने कारण शव को इंदौर भेज दिया गया था।पुलिस ने बताया कि 14 तारीख को युवक की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज हुई थी, पुलिस ने गुमशुदा लोगों में शिनाख्त कर परिजनों को शव सौंप दिया है। भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में युवक को सुपर्दे खाक किया गया है, वहीं मृतक के भाई अखलाक ने हत्या का आरोप लगाया है।KHARGON DANGA FIRST DEATH

आरिफ मसूद ने की मांग  सौंपा ज्ञापन

कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने सवाल खड़े किए है। उन्होंने कहा कि युवक की मौत के मामले की गंभीरता से जांच हो, खरगोन मामले को लेकर मुस्लिम कमेटी कोर्ट जाएगी। विधायक आरिफ मसूद ने की इकबाल सिंह से भी मुलाकात की है। उन्होंने मुस्लिम धर्म गुरुओं के साथ मुलाकात की है और मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि खरगोन मामले के बाद मप्र का एक बड़ा वर्ग चिंतित है। मुख्य सचिव से कमेटी गठित करने की मांग की है।

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा दोषियों पर होगी कार्रवाई

इधर राजधानी भोपाल में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने खरगोन हिंसा कांड में हुई एक युवक की मौत पर बोलते हुए कहा कि बीती 10 तारीख को एक डेड बॉडी मिली थी, 11 तारीख को पोस्टमार्टम किया गया था, शिनाख्त और गुमशुदगी की रिपोर्ट नहीं होने के कारण देरी हुई। रिपोर्ट के बाद सद्दाम के रूप में मृतक की शिनाख्त हुई, परिजनों ने क्रिया कर्म किया है। मामले पर जांच जारी है दोषियों पर कार्रवाई होगी।KHARGON DANGA FIRST DEATH

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password