Karwa Chauth 2020: शुभ संयोगों में पड़ रहा करवा चौथ, हजारों गुना अधिक मिलेगा पूजा का फल, जानें शुभ मुहूर्त

Karwa Chauth 2020: करवा चौथ का पर्व सुहागिन महिलाओं के लिए बहुत महत्वूर्ण व्रत माना जाता है। वहीं हिंदू पंचांग के अनुसार करवा चौथ का व्रत कार्तिक माहीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि के दिन मनाया जाता है। इस साल 4 नवंबर को करवा चौथ मनाया जाएगा। सुहागिन महिलाएं पति की लंबी आयु की कामना के लिए व्रत रखेंगी। हालांकि पंडित जी के अनुसार इस साल ग्रह नक्षत्र की चाल के कारण शुभ संयोग बन रहा है। आइए जानते हैं शुभ मुहूर्त और शुभ संयोग…

बन रहे ये शुभ संयोग

पंडित जी ने बताया कि इस बार करवा चौथ के दिन बुध के साथ सूर्य ग्रह विराजमान रहेंगे। बुध और सूर्य की युति से बुधादित्य राजयोग बनता है और इसके अलावा इस दिन शिवयोग के साथ सर्वार्ध सिद्धि, सप्त कीर्ति, महादीर्घायु और सौख्य योग बन रहे हैं। वहीं सर्वार्थ सिद्धि में चतुर्थी तिथि प्रारंभ हो रही है, जबकि इस तिथि का अंत मृगशिरा नक्षत्र में होगा। इसलिेए कई ग्रहों की युति होने से इसमें शुभ संयोग बन रहे हैं। इससे करवा चौथ व्रत करने वाली महिलाओं को पूजन का फल हजारों गुना अधिक मिलेगा।

जानें कैसे करें पूजा

– करवा चौथ के दिन सुबह सूर्योदय से पहले उठ जाएं।

– इसके बाद सरगी के रूप में मिला हुआ भोजन करें, पानी पीएं और भगवान की पूजा करके निर्जला व्रत का संकल्प लें।

– करवा चौथ में महिलाएं पूरे दिन जल-अन्न कुछ ग्रहण नहीं करतीं।

– शाम के समय चांद को देखने के बाद दर्शन कर व्रत खोलती हैं।

– शाम को पूजा के शुभ मुहूर्त पर मिट्टी की वेदी पर सभी देवताओं की स्थापना करने के बाद उसके ऊपर करवे रख दें।

– इसके बाद एक थाली में धूप, दीप, चंदन, रोली और सिंदूर रखें और घी का दीपक जलाएं।

– ध्‍यान रखें की पूजा चांद निकलने के एक घंटे पहले ही शुरु कर देनी चाहिए।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password