Kartik Maah Tulsi Poojan 2021 : आप भी जान लें कार्तिक मास में तुलसी पूजन के नियम, हर तरह से मिलेगी खुशियां

tulsi poojan in kaartik

नई दिल्ली। कल से कार्तिक माह ही शुरुआत हो रही है। इस माह में तुलसी पूजन का विशेष महत्व होता है। इस दौरान भगवान भगवान विष्णु की पूजा का विशेष महत्व है। भगवान को तुलसी अतिप्रिय हैं। इसी वजह से इस माह में मां तुलसी का पूजन विशेष रूप से किया जाता है। कार्तिक माह का समापन 19 नवंबर को होगा। इस दौरान महिलाएं कार्तिक स्नान करके घर—घर जाकर कतकारियां गाएंगीं।

कार्तिक माह है महीनों में श्रेष्ठ
— स्‍कंद पुराण में कार्तिक मास का महत्व बताया गया है। कहते हैं ​जिस प्रकार शास्‍त्रों में वेद, नदियों में गंगा और युगों में सतयुग को सबसे श्रेष्ठ माना गया है वैसे ही सभी महीनों में कार्तिक माह को श्रेष्ठ माना गया है।
— कहते है अगर कार्तिक माह में सही तरीके से तुलसी पूजन कर लिया जाए तो आपके जीवन में कभी भी धन की कमी नहीं होगी।

— इस माह तुलसी की पूजा करने से अकाल मृत्‍यु नहीं आती।

— वहीं कार्तिक मास में तुलसी और शालिग्राम के विवाह की भी परंपरा चली आ रही है।
— कार्तिक मास में एक महीने लगातार तुलसी के नीचे दीपक जलाने से परम पुण्‍य की प्राप्ति होती है। हमारे जीवन सुख शांति स्‍थापित होती है।

— कार्तिक के महीने में ब्रह्म मुहूर्त की गई तुलसी जी की पूजा पापों से मुक्ति दिलाती है।
— महीने में तुलसी के पौधे को हर गुरुवार को कच्‍चे दूध से सींचना चाहिए।
— हर शाम को तुलसी के समक्ष दीपदान करना शुभ फलकारी माना जाता है।

इस मंत्र का करें जाप —

महाप्रसाद जननी, सर्व सौभाग्यवर्धिनी
आधि व्याधि हरा नित्यं, तुलसी त्वं नमोस्तुते।।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password