Kalicharan Arrested: खजुराहो से कालीचरण की गिरफ्तारी , रायपुर पुलिस ने किया गिरफ्तार

रायपुर। कालीचरण  की आज खजुराहो से गिरफ्तारी हो गई है। रायपुर पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया है। कालीचरण की गिरफ्तारी खजुराहो के एक होटल से की गई है। वहीं शाम को उन्हें रायपुर लाया जाएगा जिसके बाद कल कोर्ट में कालीचरण को पेश किया जाएगा। बता दें कि रायपुर में 25 और 26 दिसंबर को धर्म सभा का आयोजन किया गया था,इस धर्म संसद में देशभर के कई साधु संत शामिल हुए थे। जिसमें संत कालीचरण महाराज भी थे,धर्म संसद को संबोधित करते हुए कालीचरण महाराज ने महात्मा गांधी को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। जिसके बाद प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने आपत्ति दर्ज करवाते हुए संत कालीचरण महाराज के खिलाफ टिकरापारा थाना और सिविल लाइन थाना में शिकायत दर्ज करवाई। शिकायत के बाद टिकरापारा थाना पुलिस ने कालीचरण महाराज के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। वहीं आज खजुराहो से उनकी गिरफ्तारी कर ली गई है।

 

Koo App

छत्तीसगढ़ पुलिस ने जिस तरीके से कालीचरण महाराज की गिरफ्तारी की है‌ वह संघीय मर्यादाओं के खिलाफ है। कांग्रेस शासित छत्तीसगढ़ सरकार को इंटरस्टेट प्रोटोकॉल का उल्लंघन नहीं करना चाहिए था। एमपी डीजीपी को छत्तीसगढ़ DGP से बात कर गिरफ्तारी के तरीके पर विरोध जताकर स्पष्टीकरण लेने के निर्देश दिए हैं।

Dr.Narottam Mishra (@drnarottammisra) 30 Dec 2021

कौन हैं कालीचरण महाराज
कालीचरण महाराज अकोला (महाराष्ट्र) के शिवाजीनगर का रहने वाला है 48 साल के कालीचरण महाराज का असली नाम अभिजीत धनंजय सराग है अभिजीत के पिता की अकोला के जयन चौक में मेडिकल शॉप है। अभिजीत ने टाउन जिला परिषद स्कूल में 8वीं तक की पढ़ाई की है। इंदौर में मौसी के घर रहने के दौरान भय्यूजी महाराज से जुड़े 2017 के अकोला नगर निकाय चुनाव में मिली हार भोजपुर शिव मंदिर में शिव तांडव स्त्रोत से हुए प्रसिद्ध।

सीएम भूपेश बघेल ने दी कड़ी प्रतिक्रिया
कालीचरण महाराज के विवादित बयान पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी कड़ी प्रतिक्रिया दी है। सीएम ने कहा कि छत्तीसगढ़ शांति और भाईचारे की धरती है, राष्ट्रपिता के बारे में इस तरह की बातें बताती है कि कालीचरण महाराज की मानसिक स्थिति क्या है। समाज में जहर घोलने की कोशिश करने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी। वहीं मामले में सीएम भूपेश ने बीजेपी पर निशाना साधा, उन्होंने कहा कि कालीचरण महाराज के विवादित बयान पर बीजेपी मौन है। अभी तक बीजेपी के नेताओं की ओर से इस पर कोई बयान नहीं आया।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password