JP Hospital controversy : प्रसूता-गर्भस्थ शिशु की मृत्यु मामले में डॉक्टर सस्पेंड

JP Hospital controversy : प्रसूता-गर्भस्थ शिशु की मृत्यु मामले में डॉक्टर सस्पेंड

Share This

नई दिल्ली। जेपी अस्पताल में JP Hospital controversy आए दिन डॉक्टरों और स्टॉफ की लापरवाही MP Breaking news सामने आती रहती है। bhopal news इसी के चलते बीते दिनों अस्पताल में प्रसूता और गर्भस्थ शिशु की मृत्यु का कारण डॉक्टरों की लापरवाही बनी है। ऐसी जानकारी सामने आ रही है कि प्रसूता 22 घंटे तपड़ती रही। पर कोई गायनकोलॉजिस्ट उसे देखने नहीं आया। जिसके चलते समय पर आपरेशन न करने पर उन दोनों की मृत्यु हो गई। इस लापरवाही के चलते जांच कमेटी द्वारा डॉक्टर और नर्स स्टॉफ को सस्पेंड कर दिया गया है।

इन पर गिरी गाज —
प्रसूता चंचल तिवारी और उसके गर्भस्थ शिशु की मृत्यु के मामले में लापरवाही बरतने पर जेपी अस्पताल के डाक्टरों की तीन सदस्यीय जांच कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर स्वास्थ्य आयुक्त डा. सुदाम खाड़े ने स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ डा. पी कुमार और नर्सिंग अधिकारी डा. अनामिका पटले को निलंबित कर दिया है। तो वहीं स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ डा. श्रद्धा अग्रवाल, डा. प्रीति डेहरिया और डा. वंदना ओड़ को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password