Janmastami: राजधानी की सेंट्रल जेल में मनी जन्माष्टमी, कैदियों की 30 दिन की सजा माफ, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने की घोषणा

भोपाल। प्रदेश समेत पूरे देश में आज धूम-धाम से श्री कृष्ण जन्माष्टमी मनाई जा रही है। इसको लेकर मंदिरों में तैयारियां जोरों पर हैं। कोरोना महामारी के इस दौर में भी जन्माष्टमी को लेकर पूरे देश में धूम मची हुई है। आज राजधानी स्थित सेंट्रल जेल में भी जन्माष्टमी का उत्सव मनाया गया। यहां जन्माष्टमी के उपलक्ष्य में यहां सोमवार को कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इस कार्यक्रम में गृह एवं जेल मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग और सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर शामिल हुए हैं। यहां कैदियों के बच्चों ने मुख्य अतिथियों का स्वागत किया। इसके बाद कैदियों ने इस प्रोग्राम में संगीतमय प्रस्तुतियां भी दी हैं। इस कार्यक्रम के बाद संबोधित करते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सजायाफ्ता कैदियों की 30 दिन सजा माफ करने की घोषणा की है। वहीं सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि जेल में कैदियों के लिए वॉटर कूलर लगाए जाएंगे। सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने गृहमंत्री से कृष्ण जन्माष्टमी पर प्रतिवर्ष कैदियों को स्वादिष्ट भोजन और उपवास रखने वाले कैदियों को फलाहार की व्यवस्था कराने की मांग की। साथ ही जेल की बंद कैंटीन को शुरू कराने की मांग भी की है।

आज से ही शुरू हो जाएगी कैंटीन

वहीं गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सांसद की मांगों को स्वीकार करते हुए आज से ही चिन्हिन सामान के साथ कैंटीन शुरू करने की बात कही है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि जन्माष्टमी के उपलक्ष्य में कैदियों की 30 दिनों की सजा माफ की जाती है। साथ ही आज से जेल की कैंटीन भी शुरू करा दी जाएगी। हालांकि उन्होंने यह साफ कर दिया कि 30 दिनों की सजा माफ का फायदा गंभीर अपराध के आरोपियों को नहीं दिया जाएगा। जो कैदी दुष्कर्म या फिर भ्रष्टाचाक में सजा काट रहे हैं, उन्हें यह छूट नहीं मिल पाएगी। मिश्रा ने कहा कि कोरोना संकट के कारण 5 हजार कैदियों को पेरोल पर भेजा गया था। यह पेरोल अभी जारी रहेगा। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि 10 हजार कैदियों की जमानत का प्रस्ताव भी न्यायालय को भेजा गया है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password